महराजगंज: विभिन्न मांगो को लेकर डीआईओएस कार्यालय पर गरजे शिक्षक नेता

डीएन संवाददाता

महराजगंज जनपद के शिक्षक नेताओं ने विभिन्न मांगो को लेकर जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर प्रदर्शन किया, डाइमाइट न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में पढ़ें क्या हैं शिक्षक नेताओं की मांगे..

अपर तहसीलदार राजेश कुमार को मांगपत्र देते शिक्षक नेता
अपर तहसीलदार राजेश कुमार को मांगपत्र देते शिक्षक नेता

महराजगंज: शिक्षक नेताओं ने विभिन्न मांगो को लेकर जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर प्रदर्शन किया। आज देश व्यापी आन्दोलन के तहत शिक्षक संदेश-निन्दा यात्रा लेकर पहुंचे महासभा के प्रदेश अध्यक्ष, लखनऊ के शिक्षक विधायक उमेश द्विवेदी के स्वागत में भारी संख्या में उपस्थित शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिक्षकों के हित मे यह आंदोलन निरंतर चलता रहेगा।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: दो बाइकों की आमने-सामने जबरदस्त भिडंत.. एक युवक की दर्दनाक मौत 

प्रदर्शन में मौजूद शिक्षक

 

द्विवेदी ने कहा आज महराजगंज व कुशीनगर में कार्यक्रम करने के बाद सोमवार को गोरखपुर जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर कार्यक्रम रखा गया है। उसके बाद 7 जनवरी 2019 को दिल्ली में जंतर-मंतर पर विशाल धरना प्रदर्शन किया जाएगा। जिसमें पूरे प्रदेश से भारी संख्या में शिक्षक शामिल होकर केन्द्र सरकार पर भी दबाव बनाएंगे। माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षकों को समान कार्य के लिए समान वेतन दिया जाए। जब तक पूरा वेतन नही सम्भव हो पा रहा है तब तक सम्मानजक मानदेय दिया जाए।

यह भी पढ़ें: महराजगंज में आबकारी विभाग ने मारा छापा.. पकड़ी अवैध कच्ची शराब 

शिक्षक नेता और एमएलसी उमेश द्विवेदी

सभा को संबोधित करते हुए गोरखपुर-फैजाबाद शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के प्रभारी अजय सिंह एडवोकेट ने कहा कि 5 सितम्बर 2018 को प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शिक्षकों के प्रति जो अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया उससे पूरे प्रदेश के लाखों शिक्षक आक्रोशित हैं। उन्होंने कहा कि हमारे वित्तविहीन के दोनों एमएलसी लखनऊ से उमेश द्विवेदी व बरेली-मुरादाबाद के एमएलसी संजय मिश्र लगातार सदन में वित्तविहीन शिक्षकों के हितों के लिए आवाज उठाते रहते हैं, लेकिन सदन में उनका साथ देने वाला कोई और नहीं रहता है। अगर आप सब ने सदन में अपने एमएलसी की संख्या बढा लिया तो आपकी मांगों को पूरा होने से कोई रोक नहीं पायेगा। उन्होंने आगे कहा कि शिक्षक हितों के लिए वह अपना जीवन ही दांव पर लगा देंगे।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: निचलौल महोत्सव के पहले दिन 51 मीटर लंबे तिरंगे के साथ लोगों ने निकाली वंदे मातरम यात्रा, उत्साह का माहौल 

सभा को संबोधित करते हुए संघ के प्रधान महासचिव अशोक राठौर  ने कहा कि प्रदेश सरकार वित्तविहीन शिक्षकों की उपेक्षा कर रही है। यदि समय रहते सरकार चेती नहीं तो 2019 के लोक सभा चुनाव में यही वित्तविहीन शिक्षक उनको सबक सिखा देगा। उन्होंने कहा कि मांगे न पूरी होने पर पांच सितम्बर को रेनू मिश्रा ने जो अपना बाल मुंडवाया था वह बेकार नहीं जाएगा। सभा की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष घनश्याम सिंह ने तथा संचालन प्रदेश महासचिव आफताब आलम खां ने किया। कार्यक्रम में संघ के मण्डल अध्यक्ष हर्षवर्धन सिंह, जिला महामन्त्री रामचंद्र यादव, जिला उपाध्यक्ष ललित बाबा, अर्जुन प्रसाद मौर्य, नित्यानन्द मणि त्रिपाठी, विनय चौरसिया, अनिल मणि त्रिपाठी, विकेंद्र सिंह, अफलाक अहमद, जिला मीडिया प्रभारी औसाफ आलम खां सोनू, नर्वदेश्वर तिवारी सहित भारी संख्या में शिक्षक उपस्थित रहे। कार्यक्रम के अंत मे जिलाधिकारी व जिला विद्यालय निरीक्षक अशोक कुमार सिंह व  जिलाधिकारी के प्रतिनिधि के रूप में नायब तहसीलदार सुनील सिंह को प्रधामंत्री के नाम ज्ञापन दिया।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार