लखनऊ: MLA और व्यापारी के मर्डर की ली थी सुपारी, STF ने वारदात से पहले सरगना समेत 4 कुख्यातों को दबोचा

डीएन ब्यूरो

भाजपा विधायक समेत इलाहाबाद के एक बड़े व्यापारी की हत्या की सुपारी लेने वाले कुख्यात इनामी बदमाश को उसके साथियों के साथ वारदात को अंजाम देने से पहले ही यूपी एसटीएफ की टीम ने एक मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किये गये बदमाश कुख्यात विकास सिंह गौड़े गैंग के सदस्य हैं। डाइनामाइट न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

लखनऊ: यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के निर्देश पर उनकी टीम लगातार कई बड़ी आपराधिक घटनाओं का खुलासा करने में जुटी हुई है। इस क्रम में यूपी एसटीएफ की वाराणसी टीम ने भाजपा विधायक समेत एक बड़े व्यापारी की हत्या की सुपारी लेने और कई संगीन वारदातों को अंजाम देने वाले विकास सिंह गौड़े गैंग के इनामी बदमाश चंदन सोनकर समेत उसके चार साथियों को गिरफ्तार किया। चंदन सोनकर के खिलाफ कई मामलों में वांछित था, जिसके खिलाफ पुलिस द्वारा 50 इनाम का घोषित किया गया है।

यह भी पढ़ें: यूपी के मंत्री जय प्रकाश निषाद बोले- राज्य संपत्ति विभाग के बेलगाम अफसरों पर चलेगा तबादले का चाबुक 

गिरफ्तार किये गये चारों अपराधियों को एसटीएफ ने वाराणसी के थाना कैंट इलाके से उस समय गिरफ्तार किया जब वे किसी बड़ी आपराधिक वारदात की साजिश रच रहे थे। एसटीएफ को सूचना मिली थी कि जेल में बंद कुख्यात अपराधी विकास सिंह गौड़े पुलिस कस्टडी से भागकर किसी बड़ी आपराधिक वारदात को अंजाम देने वाला है और इसी सिलसिले में उसके लिये काम करने वाले चारों गिरफ्तार आरोपी मौके पर आने वाले है। एसटीएफ ने मौके पर पहुंचकर विकास सिंह गौड़े के लिये काम करने वाले  इनामी बदमाश चंदन सोनकर को आत्मसमर्पण करने को कहा लेकिन उसने औऱ उसके साथियों ने एसटीएफ पर फायरिंग शुरू कर दी। एसटीएफ ने तत्परता दिखाते हुए चारों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार बदमाशों के साथ मौके पर मौजूद चार संदिग्ध फरार होने में सफल रहे।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: केजीएमयू में चरमराई स्वास्थ्य सुविधाएं, वेतन को लेकर रेजिडेंट डॉक्टर्स हड़ताल पर, मरीज परेशान 

एसटीएफ द्वारा गिरप्तार किये गये आरोपियों की पहचान सरगना चंदन सोनकर, पानदरीबा थाना चेतगंज (वाराणसी), अखिलेश सिंह उर्फ पंकज ग्राम अवनी थाना बरवॉ (आजमगढ़), उत्सव सिंह उर्फ यीशू सिंह निवासी मिरसादपुर थाना बदलापुर (जौनपुर) और अभिषेक सिंह उर्फ रवि सिंह निवासी ग्राम असवानिया (आजमगढ़) के रूप में की गयी।  

गिरफ्तार किये गये बदमाशों के पास से एसटीएफ को 8 खोखा जिंदा कारतूस, दो पिस्टल, एक अर्टिगा कार, दो मोटरसाइकिल, तीन मोबाइल लगभग 26 हजार रूपये बरामद हुए हैं।

गिरफ्तार किये गये अभियुक्तों ने पुलिस पूछताछ में स्वीकार किया कि वह विकास सिंह गौड़े को जेल से भगाने की साजिश रच रहे थे। अपराधियों ने खुलासा किया कि विकास सिंह गौड़े को भगाने के बाद उनकी योजना हमीरपुर के सदर क्षेत्र से भाजपा विधायक अशोक सिंह चंदेल की हत्या करने की थी। विधायक की हत्या की सुपारी उन्हें हमीरपुर निवासी अजय हड्डी द्वारा दी गयी थी। इसके अलावा उन्होंने इलाहाबाद के धूमनगंज में रहने वाले एक व्यापारी की हत्या के लिये भी 20 लाख की सुपारी ली थी। 

एसटीएफ ने गिरफ्तार अभियुक्तों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। अभियुक्तों से पूछताछ जारी है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार