कानपुर में गंगा के बढ़ते जलस्तर से ग्रामीणों में दहशत

डीएन संवाददाता

कानपुर के स्थानीय बैराज मेेें दिनों दिन गंगा का जलस्तर बढ़ता जा रहा है जिससे आसपास के ग्रामीणों में काफी चिंताएं बढ़ गयी हैं। ग्रामीण डर डर के जीवन व्यतीत कर रहे हैं। प्रशासन इस मामले को गंभीरता से नही ले रहा हैं।

गंगा नदी का बढ़ता  जलस्तर
गंगा नदी का बढ़ता जलस्तर

कानपुर: स्थानीय बैराज के आसपास कटरी गांव में गंगा नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है जिससे ग्रामीणों में काफी दहशत का माहौल बना हुआ है। दिनोंदिन नदी का जलस्तर बढ़ जाने से ग्रामीणों के जनजीवन पर काफी असर पड़ता दिखाई दे रहा है। बैराज का पानी धीरे धीरे बढ़ते हुए बाढ़ का रूप ले सकता है जिसकी चपेट में गंगा किनारे कटरी में बसे कई गांव भी आ सकते हैं इस ओर प्रशासन बिल्कुल ध्यान नही दे रहा जिसका खामियाजा ग्रामीणों को भुगतना पड़ सकता है।

डर डर के जीवन जीने को मजबूर हैं ग्रामीण

गंगा के जलस्तर को बढ़ता देख अब ग्रामीण घबराने लगे हैं उनके जेहन में कही न कही इस बात की दहशत भरी हुई है कि न जाने कब बाढ़ का पानी उनके घरों में घुसकर जीवन-यापन चौपट कर दें।

यह भी पढ़ें: कानपुर: मिलावटी पेट्रोल के विरोध में लोगों ने किया हंगामा

नत्थापुरवा गांव के बद्री ने बताया कि दिनों दिन पानी बढ़ता जा रहा है जिससे काफी चिंताएं बढ़ गयी हैं। डर डर के जीवन व्यतीत करना पड़ रहा है। प्रशासन इस मामले को कभी गंभीरता से नही लेता है। वही थोड़ा आगे नत्था पुरवा गांव के ही अरविंद ने बताया कि गंगा का जलस्तर धीरे-धीरे उफान पर पहुंच रहा है जिससे हम सभी लोग डरे हुए है कि न जाने ये बाढ़ का पानी हमारे घरों को कब उजाड़ दे।

यह भी पढ़ें: राजधानी लखनऊ के बाद कानपुर में भी पहनना होगा हेलमेट, वरना नहीं मिलेगा पेट्रोल

साथ ही उन्होनें बताया कि जब बाढ़ आती है इस बाढ़ की चपेट में करीब 15 गांव आ जाते हैं। ये मंज़र हमारे लिए तबाही से कम नही है। नदी का जलस्तर दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। जब नत्थापुरवा गांव के बद्री से पूछा कि क्या प्रशासन के लोग इस मामले को नही देखते तो उन्होने बताया कि यहां कोई नही आता है। बढ़ता हुआ जलस्तर ने ग्रामीणों की चिंता को बढ़ा दिया है।

वही गंगा बैराज के गेज़ रीडर उत्तम पाल ने बताया कि बैराज के तीसों गेट खोल दिये हैं। बताया कि अभी बाढ़ के खतरे से पानी काफी पीछे है क्योंकि गंगा खतरे के बिंदु निशान से काफी नीचे है। इस समय बैराज की गेज़ 112.95 मीटर है वही डाउन 111.95 मीटर है। इस समय नरौरा 30657 क्यूसेक ,हरिद्वार 42239 क्यूसेक और बैराज 89218 क्यूसेक पानी है। उत्तम ने बताया कि अभी बैराज में ऐसा किसी प्रकार का खतरा नही है जिससे किसी को भी परेशानी हो सके।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार