यूपी STF ने करोड़ों के राशन वितरण घोटाले में तीन सेंधमारों को किया गिरफ्तार

डीएन संवाददाता

यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के निर्देशन पर उनकी टीम ने ग्राहकों के आधार नम्बरों में हेराफेरी करके करोड़ों रुपये के अनाज में सेंध लगाने के मामले का पर्दाफाश करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। डाइनामाइट न्यूज़ की इस रिपोर्ट में पढ़ें आखिर कैसे होता था यूपी राशन घोटला


लखनऊ: यूपी के कई जिलों में राशन वितरण प्रणाली में सेंध लगाकर करोड़ों के अनाज घोटाले को अंजाम देने वाली सेंधमारी की घटना का यूपी एसटीएफ ने पर्दाफाश कर लिया है। इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। तीनों आरोपी ग्राहकों के आधार नंबर में हेराफेरी करते ऑनलाइन सिस्टम में ही सेंध लगाकर इस अवैध कृत्य को अंजाम देते थे।  

यह भी पढ़ेंः DN Exclusive: यूपी राज्य संपत्ति विभाग में घूसखोरी चरम पर, भ्रष्ट अधिकारियों के काले कारनामे जारी

यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश ने इस मामले का खुलासा करते हुए कहा कि एसटीएफ की टीम ने छापेमारी करके लखनऊ से एक कम्प्यूटर ऑपरेटर, कोटेदार और राशन कार्ड देने वाले को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ की टीम तीनों आरोपियों से पूछताछ में जुटी है। इन लोगों की गिरफ्तारी के बाद कुछ बड़े खुलासे हो सकते हैं।

एसटीएफ के मुताबिक जालसाजों ने अनाज वितरण में पारदर्शिता के लिए बनाए गए ऑनलाइन सिस्टम में ही सेंध लगा दी थी। कोटेदारों ने कम्प्यूटर ऑपरेटर की मदद से लाभार्थियों के आधार नम्बर को संशोधित कर अपने परिचितों के आधार नम्बर को फीड कर दिया जाता था। 

यह भी पढ़ेंः लखनऊ: STF ने नकली नोट छापने वाले दो शातिरों को किया गिरफ्तार, हजारों नोट बरामद

फिर उनके जरिए गरीबों का अनाज निकाल लिया जाता था। अनाज लेने के बाद असली लाभार्थी के आधार नम्बर को फिर से फीड कर दिया जाता था। इस जालसाजी के जरिए इन लोगों ने बड़ा अनाज घोटाला किया। एसटीएफ के मुताबिक इस मामले में खाद्य आयुक्त के निर्देश पर एफआईआर दर्ज कराई गईं थी। 

गिरफ्तार किये गये आरोपियों में मो आमिर खान पुत्र नौशाद अली (लखनऊ), मो अल्तमश पुत्र नौशाद अली (लखनऊ) और पुष्पेंद्र लाल पुत्र सुरेश सिंह (नोएडा) शामिल है। आरोपियों के कब्जे से एक डेस्कटॉप कम्प्यूटर, एक सीपीयी और दो अदद ई-पास मशीन बरामद की गयी। 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार