योगी: निवेशक सम्मेलन के बाद यूपी में आया 2.75 लाख करोड़ से ज्यादा का निवेश

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि फरवरी 2018 में लखनऊ में हुई निवेशक सम्मेलन के बाद सूबे में निजी तथा सार्वजनिक क्षेत्र में कुल 2.75 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश हुआ है।

योगी आदित्यनाथ
योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि फरवरी 2018 में लखनऊ में हुई निवेशक सम्मेलन के बाद सूबे में निजी तथा सार्वजनिक क्षेत्र में कुल 2.75 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अगले साल ‘ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट’ (वैश्विक निवेशक सम्मेलन) का आयोजन किया जाएगा और साल 2024 तक निवेशकों के सहयोग से प्रदेश को एक हजार अरब डालर की अर्थव्यवस्था बनाने में कामयाबी मिलेगी।
यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’: आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

योगी ने 65 हजार करोड़ रुपये से बनने वाली 250 से ज्यादा परियोजनाओं के शिलान्यास के लिये आयोजित 'ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी—2' में कहा 'निवेशक सम्मेलन के बाद अगर हम निजी निवेश की बात करते हैं तो लगभग डेढ़ लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश उत्तर प्रदेश में अब तक सम्पन्न हो रहा है। सार्वजनिक निवेश की भी बात करें तो यह भी लगभग एक लाख 25 हजार करोड़ रुपये से अधिक का निवेश हम उत्तर प्रदेश में करने में सफल हुए हैं।'

उन्होंने कहा 'इसके माध्यम से सरकार ने प्रदेश में लगभग 28 लाख नौजवानों को ना केवल रोजगार बल्कि विभिन्न क्षेत्रों में नौकरियों की सम्भावनाएं उपलब्ध करायी हैं।' योगी ने कहा कि उनकी सरकार ने वर्ष 2017 में हुए विधानसभा चुनाव के लिये तैयार किये गये भाजपा के लोक कल्याण पत्र के वादों को मंत्र मानकर काम शुरू किया। उसी का परिणाम है कि हमें हर क्षेत्र में कामयाबी मिलती दिख रही है।उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश ने दो वर्ष में देश में सबसे ज्यादा निर्यात करने वाला राज्य बनने में सफलता प्राप्त की है। एक साल में ही प्रदेश से निर्यात 28 फीसद बढ़ा है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: आनंदीबेन पटेल ने उत्तर प्रदेश के राज्‍यपाल के रुप में ली शपथ

योगी आदित्यनाथ और अमित शाह

यह भी पढ़ें: लोकसभा से बड़ी खबर: रमा देवी टिप्पणी मामले में आज़म खान ने मांगी माफ़ी

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह उत्तर प्रदेश में सभी निवेशकों का स्वागत और अभिनन्दन करते हैं। पिछले 15 वर्षों में उत्तर प्रदेश को लेकर जो नजरिया बना था, उसे बदलने और यहां निवेश का इरादा दिखाने के लिये वह निवेशकों को धन्यवाद देते हैं। उन्होंने कहा कि वह सभी निवेशकों को आश्वस्त करते हैं कि उत्तर प्रदेश उन सभी का स्वागत करेगा और उन्हें शासन की नीतियों के तहत सहायता उपलब्ध कराएगा। योगी ने सम्मेलन के समापन समारोह में कहा कि ‘उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट-2018’ के तहत हस्ताक्षरित प्रस्तावों में से 40 प्रतिशत पर पिछले दो वर्षों में कार्य शुरू हो चुका है। जल्द ही ‘ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी-3’ का आयोजन किया जाएगा, जिसमें 62 से 65 हजार करोड़ रुपए के निवेश प्रस्तावों का शुभारम्भ होगा।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: झोपड़ी में रहने को मजबूर प्रधान का पूरा परिवार, मछली का शिकार कर हो रहा गुजर-बसर

उन्होंने एलान किया कि प्रदेश में अगले वर्ष ‘ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट’ (वैश्विक निवेशक सम्मेलन) का आयोजन किया जाएगा और इससे वर्ष 2024 तक निवेशकों के सहयोग से प्रदेश को एक हजार अरब डालर की अर्थव्यवस्था बनाने में कामयाबी मिलेगी।(भाषा)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …