महराजगंज: आरोपियों को पूछताछ के बाद छोड़ने पर परिजनों ने की आत्मदाह की कोशिश, घंटो किया हंगामा

डीएन ब्यूरो

आरोपियों को हिरासत में लेने के बाद सिर्फ पूछताछ करके छोड़ने के लिए पीड़ित के परिजनों ने नाराजगी जताई है। जिस दौरान उन्होनें जाम लगा दिया। उनमें से कुछ ने आत्मदाह की कोशिश भी की। ये हंगामा करीब डेढ़ घंटे तक चला। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ की विशेष खबर..

परिजनों ने की आत्मदाह की कोशिश
परिजनों ने की आत्मदाह की कोशिश

निचलौल (महराजगंज): आरोपियों पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज पीड़ित के परिजनों ने जमकर हंगामा किया। उनमें से कुछ लोगों ने आत्मदाह करने की कोशिश भी की। लेकिन मौके पर मौजूद पुलिस ने किसी तरह उन्हें संभाला। करीब डेढ़ घंटे तक चले इस हंगामे के बाद पुलिस ने परिजनों को समझाया और कार्रवाई का आश्वासन दिया। कल शाम चार बजे निचलौल-महराजगंज मार्ग के तहसील चौराहे पर जाम लगा रहा। करीब डेढ़ घंटे तक चले हंगामे के बाद समझाने बुझाने पहुंचे इंस्पेक्टर से ग्रामीणों की नोकझोंक भी हुई। बाद में सीओ ने आरोपियों पर कार्रवाई का आश्वासन देकर लोगों को शांत कराया। 

यह भी पढ़ें: महराजगंज: दबंगों ने स्वास्थ्य केंद्र पर आशा को पीटा, महिला ने एक को पकड़ा

जानकारी के मुताबिक कस्बे के कृष्णा नगर वार्ड निवासी राज मद्धेशिया (16) का शव बीते 27 जून को नहर से बरामद हुआ था। इस मामले में पुलिस को तहरीर देकर परिजनों ने कार्रवाई की मांग की थी। जिसके बाद पुलिस ने संदेह के आधार पर कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया था। लेकिन बुधवार को पुलिस ने उन्हें पूछताछ के बाद छोड़ दिया, जिससे नाराज परिजनों ने नगर पंचायत अध्यक्ष विश्वनाथ मद्धेशिया एवं अनूप मद्धेशिया के नेतृत्व में निचलौल-महराजगंज मार्ग पर तहसील चौराहे के पास जाम लगा दिया।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: पुलिस ने गैंगेस्टर एक्ट में आरोपी को तमंचे के साथ पकड़ा

इस दौरान दो परिजनों ने खुद पर मिट्टी का तेल उड़ेलकर आत्मदाह की कोशिश भी की, लेकिन पुलिस ने रोक उन्हें रोक लिया। मृतक राज के पिता संजय का कहना है कि उन्होंने पुलिस को नामजद शिकायत दी है। इसके बावजूद कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जा रही है। सीओ रणविजय सिंह ने कहा कि रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार