बिहार में शिक्षक घोटाला: चार हजार से भी ज्यादा फर्जी शिक्षकों की बर्खास्तगी अब तय

डीएन ब्यूरो

फर्जी प्रमाणपत्र जमा करके शिक्षक की नौकरी हासिल करने वालों की अब खैर नहीं है। फर्जी प्रमाणपत्र पर बहाल हुए चार हजार से भी ज्यादा शिक्षकों की बर्खास्तगी तय मानी जा रही है। पटना हाईकोर्ट ने कई फर्जी प्रमाणपत्रों के जांच के आदेश दिए हैं। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

बिहार: पटना हाईकोर्ट द्वारा फर्जी प्रमाण पत्र पर शिक्षकों की नियुक्ती होने की जानकारी के बाद कोर्ट ने सख्त एक्शन लिया है। विजिलेंस ब्यूरो ने शिक्षा विभाग के कई प्रमाणपत्रों को चिह्नित किया है जिनकी जांच की जाएगी। साथ ही प्रमाणपत्रों का सत्यापन करने के लिए भी कहा गया है।

यह भी पढ़ें: Bihar: अय्याशी करते नजर आए JDU के नेता, लड़की संग वायरल हो रहा है वीडियो

प्रमाणपत्र जांच की लिस्ट में कुल 4,345 शिक्षकों के नाम शामिल हैं। बता दें कि साल 2006 से लेकर 2015 तक करीब 3.62 लाख शिक्षकों की नियुक्ति हुई थी। इन शिक्षकों के प्रमाणपत्र के जांच के आदेश विजिलेंस ब्यूरो को दी गई है। जांच का दायरा बढ़ाने के लिए शिक्षा विभाग ने संबंधित नियोजन इकाईयों पर दवाब बढ़ाना शुरू कर दिया है। इससे विजिलेंस ब्यूरो फर्जी प्रमाणपत्र पर नियोजित शिक्षकों की पहचान में तेजी ला सकेगा। 

यह भी पढ़ें: Bihar में Facebook पर शादीशुदा महिला को हुआ प्यार, पति को छोड़कर आई प्रेमी के पास, और फिर..

पटना हाईकोर्ट ने जल्दी से इस मामले को देखने के आदेश दिए हैं। साथ ही कोर्ट ने कहा कि तीन साल बीतने के बाद भी जांच में तेजी नहीं लाई सकी। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार