महराजगंज में अनूठा प्रदर्शन.. तालाब बनी सड़कें तो पानी में डूबे लोग, जताया उग्र विरोध

डीएन संवाददाता

जल निकासी समेत कई तरह की सुविधाएं न होने के कारण जिले की कई सड़कें पानी से लबालब भरी हुई है। तालाब बनी इन सड़कों को पार करना जनता के लिये किसी सजा काटने से कम नहीं है। जब प्रशासन ने जनता की समस्याओं की तरफ आंखें मूंद ली तो यहां के लोग अनूठे प्रदर्शन पर उतर आये। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


महराजगंज: जल निकासी की समुचित व्यवस्था न होने के कारण जिले की कई सड़कें तालाब में परिवर्तित हो गयी है। इन सड़कों ने लोगों को घरों में रहने को भी मजबूर कर दिया है। विवशता के चलते पानी से लबालब भरी सड़कों को पार करना जनता के लिये किसी सजा को भुगतने से कम नहीं है। इन सड़कों की तरफ प्रशासन का ध्यान खींचने और लोकल बॉडी व सरकार की नाकामियों को उजागर करने के लिये लोगों ने शनिवार को अनोखा प्रदर्शन किया।

यह भी पढ़ेंः महराजगंज: जमीन हड़पकर बने मदरसे की मान्यता खतरे में, मदरसा प्रबंधन के खिलाफ लोगों में रोष

सदर कोतवाली के महुअवा चौराहे से महुअवा गांव जाने वाला मार्ग पूरी तरह से पानी में डूब गया है। पूरी तरह से पानी भरे होने के कारण लोगों का इस मार्ग से गुजरना काफी कष्टकारी हो गया है। शनिवार को महुअवा गांव के लोग इस मार्ग पर भरे पानी में उतरे और उसमें डूबकर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। जनता ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जल्द ही रोड बनवाने और जल निकासी की व्यवस्था की मांग की।

यह भी पढ़ेंः महराजगंज: प्रेरकों ने शिक्षक दिवस को मनाया काला दिवस के रूप में

इस मौके पर प्रदर्शनकारी ग्रामीणों ने कहा कि जिला मुख्यालय से महज 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित रास्तों का जब ये हाल है तो सुदूरवर्ती क्षेत्रों के क्या हाल होंगा, इसका अंदाजा हर कोई लगा सकता है। उनका कहना है कि मार्ग की हालत खराब है और गांव में आने-जाने के लिए उन्हें काफी परेशानियां झेलनी पड़ती हैं।

ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि यदि जल्द ही रोड का निर्माण और जल निकासी का प्रबंध नहीं हुआ तो वे और उग्र प्रदर्शन करेंगे। प्रदर्शन करने वालो में संत कृपाल, डब्लू, जगदीश, सुरेंद्र, अमरजीत समेत अन्य लोग शामिल रहे।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …