आधी रात को एसएसपी निकले लखनऊ की सड़कों पर, पुलिस वालों की उड़ी नींद

डीएन ब्यूरो

प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था पर CM योगी की फटकार के बाद अब SSP कलानिधि नैथानी ने देर रात अलग-अलग थानों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान SSP को यहां सुरक्षा व्यवस्था में भारी खामियां देखने को मिली। डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव..


लखनऊः राजधानी में हो रही ताबड़तोड़ आपराधिक वारदात को देखते हुये एसएसपी कलानिधि नैथानी ने खुद देर रात अलग- अलग थानों का औचक निरीक्षण किया। एसएसपी ने इस दौरान रात्रि में जगह- जगह पर भारी अनियमितता देखी। इस पर उनका गुस्सा फूट पड़ा और एसएसपी ने तत्काल एसएचओ अलीगंज को लाइन हाजिर कर दिया और देर रात ही एसएसपी द्वारा राज भवन के पास हुए लूट कांड के खुलासे में अहम भूमिका निभाने वाले एंटी डकैती सेल  के प्रभारी निरीक्षक फरीद अहमद को प्रभारी निरीक्षक अलीगंज नियुक्त किया गया।      

यह भी पढ़ेंः यूपी एसटीएफ ने क्रिकेट मैच में सट्टा लगाने वाले गिरोह का किया भंडाफोड़, 4 गिरफ्तार

 

 

 

गौरतलब है कि राजधानी में बीते कुछ दिनों में ताबड़तोड़ अपराधिक घटनाओं से लखनऊ पुलिस की काफी किरकरी हुई है। जिसको लेकर मुख्यमंत्री ने भी संज्ञान लिया और तत्काल  अधिकारियों की बैठक बुलाई थी। जिसमें मुख्यमंत्री ने फटकार लगाते हुए कार्रवाई के साथ खुलासे के भी  आदेश दिए थे। सीएम से सख्त हिदायत मिलने के बाद एसएसपी  कलानिधि नैथानी ने खुद मोर्चा संभाला और देर रात चेकिंग पर निकल गए।    

यह भी पढ़ेंः यूपी के गालीबाज एसपी ने ट्विटर पर दी सफाई, महिला विधायक ने किया विरोध 

अलीगंज थाने को पहले ही सूचना दे दी गई थी। एसएसपी  थाने के सभी दरोगा और सिपाही से मिलेंगे। मगर एसएसपी के पहुंचने पर तीन दरोगा गैर हाजिर मिले जिससे नाराज एसएसपी ने एसएचओ अलीगंज को बीच सड़क पर जमकर फटकार लगाई। वंही ट्रांस गोमती को भी हिदायत दी। इतने में ही एसएसपी चुप नहीं हुए और उन्होंने तुरंत अलीगंज एसएचओ को लाइन हाजिर कर दिया।   

 

पुलिस अधिकारियों की क्लास लगाते SSP

 

साथ ही थाना अलीगंज पर तैनात आरक्षी राहुल तालियान के द्वारा अवैधानिक क्रियाकलापों में लिप्त होने की शिकायत प्राप्त होने व क्षेत्राधिकारी अलीगंज की रिपोर्ट पर आरक्षी राहुल तालियान को भी एसएसपी के द्वारा तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया। एसएसपी  के कड़े रुख को देखते हुए पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार