लखनऊ: अखिलेश यादव बोले- संवैधानिक संस्थाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है भाजपा सरकार

डीएन संवाददाता

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने देश में सीबीआई के मामले पर मचे घमासान के लिये भाजपा सरकार को दोषी करार दिया। डाइनामाइट न्यूज की इस स्पेशल रिपोर्ट में पढ़िये, अखिलेश ने भाजपा पर किस तरह किया हमला..


लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सीबीआई को लेकर देश में मचे घमासान के लिये भाजपा सरकार को कटघरे में खड़ा किया। अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार संवैधानिक संस्थाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है और सीबीआई का मामले सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि ऐसे में आम आदमी निष्पक्ष जांच के लिए किस एजेंसी से उम्मीद करेगा, यह बहुत बड़ा सवाल है। अखिलेश ने कहा कि सरकार को संवैधानिक संस्थाओं की मर्यादा बनाए रखनी चाहिए, यही देश का हित है।

यह भी पढ़ें: अखिलेश यादव बोले- यूपी पुलिस विभाग में आत्महत्याओं के लिये योगी सरकार जिम्मेदार 

 

 

भाजपा सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि इलाहाबाद में होने वाले अर्धकुंभ को सरकार कुंभ कहकर प्रचारित कर रही है, जो जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा है। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए भी सरकार महाकुंभ का आयोजन कर रही है, जिसमें किसानों के लिए सरकार की योजनाओं के बारे में बताया जाएगा। मगर इस कुंभ की जमीनी हकीकत यह है कि सरकार किसानों को उनकी उपज का उचित दाम तक नहीं दिला पा रही है। वही रोजगार को लेकर युवाओं को सड़कों पर प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होना पड़ा है और प्रदर्शन करने पर युवाओं पर पुलिस लाठियां बरसा रही है।

यह भी पढ़ें: लोहिया की पुण्यतिथि पर बोले अखिलेश यादव- कोई भी समाजवादी व्यक्ति जातिवादी नहीं हो सकता 

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि जब यूपी में फिर से सपा की सरकार बनेगी.. तब इलाहाबाद, बनारस, मेरठ जैसे जिलों में लखनऊ और कानपुर की तर्ज पर बड़ा क्रिकेट स्टेडियम बनाया जाएगा, जिसमें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच आयोजित किए जाएंगे। वहीं बहराइच में नौ परिवहन के माध्यम से ईकोटूरिज्म को भी बढ़ावा दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिये समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों की सूची जारी

इस मौके पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिलने इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र संघ अध्यक्ष उदय यादव समेत गोरखपुर और दूसरे कई जिलों से छात्र नेता मिलने पहुंचे थे।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …