आखिरकार फूट पड़ा ग्रामीणों का गुस्सा, कहा मापदंड अनुरूप नहीं गौरव पथ का निर्माण कार्य

डीएन ब्यूरो

गुरूवार को मांडलगढ़ भीलवाड़ा क्षेत्र के मानपुरा ग्राम पंचायत, सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा धीमी गति से गौरव पथ विकास कार्य को लेकर ग्रामीणों ने दिखाया आक्रोश। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर...

सार्वजनिक निर्माण कार्यालय
सार्वजनिक निर्माण कार्यालय

मांडलगढ़ भीलवाड़ा: मानपुरा ग्राम पंचायत में सैकड़ों ग्रामीण महिला पुरुषों ने आज एक बडी कार्यवाही करते हुए ग्राम पंचायत के बाहर पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों और ठेकेदार की अनदेखी को लेकर हंगामा किया। ग्रामीणों ने सड़क निर्माण में बरती गई अनियमितता को स्पष्ट तौर पर उजागर करवाया। ग्रामीणों ने मामले की वास्तविक स्थिति को जिला कलेक्टर और उच्च अधिकारियों को अवगत कराया।

यह भी पढ़ें: महराजगंज से बड़ी खबरः खुली विकास की पोल, गांव में नहीं बल्कि सिर्फ कागजों में बना है आंगनबाड़ी केंद्र 

मानपुरा ग्राम पंचायत में लगभग 1 साल से 66 लाख रूपये की लागत से ग्रामीण गौरव पथ का निर्माण किया जा रहा है। निर्माण कार्य को लेकर ग्रामीणों ने ठेकेदार द्वारा घटिया निर्माण करवाने की शिकायत की है उन्होंने तहसील में पहुंचकर जमकर नारेबाजी की और अधिकारियों को चेताया कि अगर एक माह में सड़क नहीं बनी तो उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने मानपुरा सरपंच चंदा देवी प्रजापत को जिला कलेक्टर के नाम का ज्ञापन सौंपा। 

यह भी पढ़ें: Maharashtra राज्यपाल के निर्णय के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची शिवसेना

इस मौके पर उन्होंने कहा कि ठेकेदार द्वारा 200 मीटर सीसी सड़क निर्माण कार्य अधूरा छोड़ दिया गया है और सड़क के दोनों तरफ तीन-तीन फीट सीमेंट के 80 हजार ब्लॉक नहीं लगाये गये हैं। जिस पर ग्राम विकास अधिकारी संजय मीणा और मानपुरा सरपंच चंदा देवी प्रजापत ने उच्च अधिकारियों से दूरभाष पर वार्ता की। वहीं ग्रामीणों को समझा कर मामला शांत कराया गया। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार