यूपी में गांव से लेकर शहर तक बिजली की कीमत बढ़ी, करोड़ों लोगों को योगी सरकार ने दिया तगड़ा झटका

डीएन ब्यूरो

एक तरफ दूसरे राज्यों में बिजली की कीमत घटती हैं लेकिन उत्तर प्रदेश में बिजली की दरें बढ़ायी जा रही हैं, इसके पीछे तर्क ये दिया जा रहा है कि राज्य में बिजली पहले की तुलना में ज्यादा दी जा रही है इसलिए हम मूल्य अधिक लेंगे।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

लखनऊ: राज्य के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा का कहना है कि सपा सरकार में बिजली बेहद कम मिलती थी अब योगी सरकार में शहर में 24 घंटे और गांवों में 18 घंटे बिजली मिलती दी जा रही है। यदि आपको सुविधा मिल रही है तो उसी हिसाब से भुगतान भी करना होगा। 

यह भी पढ़ें: डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव में दिखी महिला सशक्तिकरण की झलक, पहुंची तीन वर्षों की महिला टॉपर्स, राष्ट्रपति के सचिव रहे मुख्य अतिथि

डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता के मुताबिक बढ़ी दरें तत्काल प्रभाव से लागू कर दी गयी हैं। उद्योग क्षेत्र में दस फीसदी दरें बढ़ायी गयी हैं तो वहीं शहरी क्षेत्र में बिजली दर 15 फीसदी बढ़ा दी गयी हैं। ग्रामीण इलाकों में फिक्स चार्ज 400 से बढ़ाकर 500 कर दिया गया है। 

यह भी पढ़ें: राष्ट्रपति के सचिव संजय कोठारी ने कहा- आईएएस की परीक्षा में विषयों का सही चयन बेहद जरुरी

पिछले दिनों उत्तर प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (UPPCL) ने घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली के दामों में 25 फीसदी से भी ज्यादा की बढ़ोतरी करने का प्रस्ताव पेश किया था। जिस पर अब मुहर लगा दी गयी है। 

सरकार के इस कदम का तमाम लोगों ने विरोध किया है। विद्युत उपभोक्ता परिषद, भारतीय किसान यूनियन समेत अनेक संगठन इस बढ़ोत्तरी के खिलाफ हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …