डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव में दिखी महिला सशक्तिकरण की झलक, पहुंची तीन वर्षों की महिला टॉपर्स, राष्ट्रपति के सचिव रहे मुख्य अतिथि

डीएन ब्यूरो

राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019 का शानदार आयोजन किया गया। इसमें भाग लेने के लिए देश के अलग-अलग राज्यों के युवा बड़ी संख्या में दिल्ली पहुंचे। समारोह के मुख्य अतिथि भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद के सचिव व वरिष्ठ आईएएस संजय कोठारी रहे। इस आयोजन की सबसे खास बात रही कि अलग-अलग वर्षों की तीन आईएएस टॉपर्स एक मंच पर मौजूद रहीं। ये सभी महिलाएं थीं, जो देश में महिला सशक्तिकरण की गवाही दे रही थीं। पूरी खबर:

डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019 में प्रतिभागियों की भारी भीड़
डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019 में प्रतिभागियों की भारी भीड़

नई दिल्ली: आईएएस की परीक्षा में विषयों का सही चयन बेहद आवश्यक है, यही यूपीएससी के परीक्षा का मुख्य आधार है। यह कहना है भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सचिव व वरिष्ठ आईएएस संजय कोठारी का। उन्होंने कहा कि परीक्षार्थी को अर्जुन की तरह अपने लक्ष्य पर लगातार नजर गढ़ाये रखनी चाहिये।  

 

कॉन्क्लेव के मंच पर मौजूद अतिथिगण 

वे रविवार को राजधानी के राष्ट्रीय प्राणी उद्यान में डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019 में भारी संख्या में आये आईएएस प्रतियोगियों को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। कॉन्क्लेव का विषय था: ‘सिविल सेवा परीक्षा में सफल होने का मूलमंत्र’ 

भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद के सचिव व वरिष्ठ आईएएस संजय कोठारी

संजय कोठारी  
परीक्षार्थी को अर्जुन की तरह अपने लक्ष्य पर लगातार नजर गढ़ाये रखनी चाहिये ताकि वह अपने लक्ष्य से किसी भी कीमत पर न भटके।

कॉन्क्लेव में 2015 बैच की आईएएस टॉपर (रैंक 1) इरा सिंघल, 2017 बैच की आईएएस टॉपर (रैंक 1) केआर नंदिनी और 2018 बैच की आईएएस टॉपर (रैंक 2) अनु कुमारी मुख्य वक्ता के तौर पर मौजूद रहीं। साथ ही स्टील अथारिटी ऑफ इण्डिया लिमिटेड के पूर्व चेयरमैन और डाइनामाइट न्यूज़ बोर्ड ऑफ एडवाइजर्स के सदस्य एसके रुंगटा, दिल्ली चिड़ियाघर की निदेशक व आईएफएस अधिकारी रेनू सिंह और डाइनामाइट न्यूज़ के एडिटर-इन-चीफएक मुलाक़ात प्रोग्राम के एंकर मनोज टिबड़ेवाल आकाश ने भी अपने विचार यूपीएससी की तैयारी करने वाले नौजवानों के साथ साझा किये।   

इरा सिंघल, 2015 बैच की आईएएस टॉपर (रैंक 1) 

इरा सिंघल 
ग्रेजुएशन के बाद सिविल सेवा की तैयारी परीक्षार्थियों के लिए अधिक लाभदायक होगी। सबसे अहम बात ये है कि आप जिस भाषा में तैयारी कर रहे हैं, उसमें आपकी पूरी पकड़ होनी चाहिये।  

केआर नंदिनी, 2017 बैच की आईएएस टॉपर (रैंक 1) 

केआर नंदिनी
ज्यादातर लोगों में आत्मविश्वास की कमी होती है लेकिन कड़ी मेहनत से इस पर काबू पाया जा सकता है। आत्मविश्वास सफलता की एक अहम कड़ी है। 

अनु कुमारी 2018 बैच की आईएएस टॉपर (रैंक 2) 

अनु कुमारी
तैयारी में कोचिंग की भूमिका को मैं बहुत ज्यादा अहमियत नहीं देती। इससे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि छात्रों को कठिन परिश्रम, लगन और समर्पण के साथ परीक्षा देनी चाहिये, यह उनके सफलता में मील का पत्थर साबित होगा। 

एसके रुंगटा और (बायें) मनोज टिबड़ेवाल आकाश

एसके रुंगटा
छात्रों को तैयारी के लिए लेखन और खबरों को पढ़ने पर विशेष ध्यान देना चाहिए। इससे सफलता की गारंटी अधिक होगी। 

रेनू सिंह को प्रतीक चिन्ह भेंट करते हुए मनोज टिबड़ेवाल आकाश

रेनू सिंह
कड़ी मेहनत के बिना सफलता प्राप्त नही हो सकती इसलिए हर युवा को चाहिये कि वह कठिन परिश्रम करे। 

डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव का आयोजन लगातार दूसरे साल डाइनामाइट न्यूज़ द्वारा किया गया। 

 

देश के कोने-कोने से जुटे प्रतिभागी

जुटे उत्तर से दक्षिण और पूर्व से पश्चिम राज्यों के नौजवान 
कॉन्क्लेव में आंध्र प्रदेश, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडू, महाराष्ट्र, उड़ीसा, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, जम्मू और कश्मीर, हरियाणा, पंजाब सहित विभिन्न राज्यों के ग्रामीण अंचलों के नौजवान पहुंचे। इनमें से तमाम तो ऐसे थे जो आज के पहले कभी दिल्ली ही नहीं आये थे। इन्हें ऑनलाइन माध्यम से कॉन्क्लेव की जानकारी हुई और ये इसमें भाग लेने पहुंचे। इससे डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव के प्रति युवाओं के बढ़ते रुझान का पता चलता है।   

आईएएस टॉपर्स को ध्यान से सुनते छात्र-छात्रायें

राजधानी में अपनी तरह के अनोखे आयोजन में वक्ताओं के संबोधन के बाद प्रश्न-उत्तर का सिलसिला शुरु हुआ, जिसमें युवाओं ने बढ़-चढ़कर सवाल पूछे। खास बात यह रही कि यह सत्र दो घंटे का था लेकिन यह तीन घंटे से भी अधिक समय तक चला। 

स्मृति चिन्ह 
कार्यक्रम के अंत में डाइनामाइट न्यूज़ की चेयरपर्सन रानी टिबड़ेवाल ने सभी अतिथियों का आभार प्रकट किया और प्रतियोगियों को अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की। श्रीमती टिबड़ेवाल ने मुख्य वक्ताओं को डाइनामाइट न्यूज़ का स्मृति चिन्ह भेंट किया। 

इरा सिंघल को प्रतीक चिन्ह देतीं डाइनामाइट न्यूज़ की चेयरपर्सन रानी टिबड़ेवाल

कॉन्क्लेव में नई दिल्ली वाईएमसीए इमसिट के निदेशक दलीप मैक्यून, डाइनामाइट न्यूज़ के सलाहकार और दूरदर्शन के पूर्व न्यूज़रीडर वेद प्रकाश, संगीत केडिया एकेडमी के निदेशक संगीत केडिया, पार्लियामेंट प्रेस ऑफ साउथ एशिया के चेयरमैन और दूरदर्शन न्यूज़ के संपादक डा. ओपी यादव, युवा पत्रकार अभय सिंह, आशुतोष मिश्रा, युवा हल्ला बोल के जाने-पहचाने चेहरे गोविंद मिश्रा, औद्योगिक मामलों के जानकार पवन राय, सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता मनीष राघव, प्रमुख समाजसेवी गौरव रघुवंशी और संजय कुमार फिटकरीवाला प्रमुख रुप से मौजूद रहे। 

नेशनल मिनरल डेवलेपमेंट कारपोरेशन लिमिटेड (एनएमडीसी) ने इस कॉन्क्लेव को स्पॉन्सर किया। 

कार्यक्रम में डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव की आयोजन समिति के अध्यक्ष आशुतोष अग्रवाल और डाइनामाइट न्यूज़ परिवार के श्रीजा चौधरी, जमिमा जोसेफ, गौरव फिटकारीवाला, निर्भीक टिबड़ेवाल, समृद्धि टिबड़ेवाल, अशोक कुमार मिश्रा, राधा मंमगई, शालू स्नेहा, संतोष केवट, कपिल कुमार, जुगुल किशोर, लखनऊ ब्यूरो चीफ जय प्रकाश पाठक, देवरिया ब्यूरो चीफ मृत्युंजय विशारद मौजूद रहे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार