कांग्रेस को बड़ा झटका: संजय सिंह ने राज्‍यसभा से दिया इस्‍तीफा, 'हाथ' को भी कहा बाय-बाय

डीएन ब्यूरो

नेहरू गांधी परिवार के करीबी रहे संजय सिंह ने कांग्रेस से इस्‍तीफा दे दिया है। उनकी पत्‍नी अमिता सिंह ने भी इस्‍तीफा दे दिया है। वह अमेठी के राजपरिवार से आते हैं। अब किस पार्टी के साथ जाएंगे यह जानने के लिए पढ़ें डाइनामाइट न्‍यूज की पूरी खबर..

संजय सिंह और अमिता सिंह (फाइल फोटो)
संजय सिंह और अमिता सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: आज गांधी परिवार के करीबी रहे डॉ. संजय सिंह ने कांग्रेस और राज्यसभा दोनों की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। वह अमेठी के राजपरिवार से आते हैं। उनके साथ-साथ उनकी पत्‍नी अमिता सिंह ने भी कांग्रेस को बाय-बाय कह दिया है। 

यह भी पढ़ें: लखनऊ भाजपा कार्यालय के बाहर कांग्रेस नेताओं का प्रदर्शन, पुलिस से झड़प

संजय सिंह ने कहा 1984 से कांग्रेस के साथ रिश्ता है लेकिन पिछले 15 साल में कांग्रेस में जो कुछ हुआ, वह पहले कभी नहीं हुआ। बहुत कुछ सोचने के बाद मैंने यह निर्णय लिया है।

बुधवार को उनके भाजपा में शामिल होने की बात चल रही है। अपने इस्‍तीफे के बाद संजय सिंह ने कहा कि मैं कांग्रेस इसलिए छोड़ रहा हूं क्योंकि कांग्रेस नेतृत्व जीरो है। कांग्रेस अभी भी अतीत में है, उसे भविष्य का होश ही नहीं है। आज पूरा देश प्रधानमंत्री के साथ है और अगर देश उनके साथ है तो मैं भी उनके साथ हूं। कल मैं भाजपा की सदस्‍यता ग्रहण करूंगा। मैने राज्‍यसभा से अपना इस्‍तीफा दे दिया है। 

यह भी पढ़ें: उन्नाव रेप कांड: पीड़िता के चाचा को हाईकोर्ट से मिली एक दिन की शार्ट टर्म बेल

राज्‍यसभा के कार्यकाल में बाकी था एक साल

गौरतलब है कि डॉ. संजय सिंह असम से राज्यसभा सदस्य थे और अभी उनके कार्यकाल का एक साल बचा हुआ था। इसके बावजूद उन्होंने राज्यसभा और कांग्रेस छोड़ने का ऐलान कर दिया है।

सतीश शर्मा को हराकर चुने गए थे सांसद

संजय सिंह 1998 में पहली बार अमेठी संसदीय सीट से कांग्रेस के कैप्टन सतीश शर्मा को हराकर सांसद चुने गए थे। इसके बाद वह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे।

यह भी पढ़ें: उन्नाव रेप कांड: पीड़िता ने चीफ जस्‍ट‍िस को पत्र लिखकर बताया था जान का खतरा

वहीं, आपको बता दें कि जब लोकसभा चुनाव में हार के बाद जब राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया था तो संजय सिंह ने राहुल गांधी से इस्तीफा वापस लेने का अनुरोध किया था। संजय सिंह ने विश्वास जताया था कि राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस जोरदार वापसी करेगी लेकिन ऐसा न हो सका।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार