लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस त्याग सकती है विधानसभा की सीटें..जानिए किस पार्टी को हो सकता है नुकसान

डीएन ब्यूरो

कांग्रेस अपना ध्यान आगामी लोकसभा चुनाव पर दे रही है। उसकी चाहत है कि वह लोकसभा में अधिक से अधिक सीटें जीते। लिहाजा वह लोकसभा के लिए विधानसभा चुनाव से संबंधित कुछ सीटों को त्यागने के लिए भी तैयार है। डाइनामाइट न्यूज की रिपोर्ट..

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

नई दिल्ली: आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अधिक से अधिक सीटें हथियाना चाहती है। इसके लिए वह विधानसभा चुनाव से संबंधित कुछ सीटें त्यागने को भी तैयार है। कांग्रेस की इस इच्छा का खामियाज़ा क्षेत्रीय पार्टियों को उठाना पड़ सकता है। 
खबर है कि कांग्रेस विधानसभा उपचुनावों में लगातार मिली जीत के बावजूद अपनी दावेदारी को सीमित रखते हुए लोकसभा पर नजर रखेगी। जिन विधानसभा क्षेत्रों में पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस नंबर दो अथवा नंबर तीन पर रही वह सीटें छोड़े जाने के अधिक आसार हैं। नंबर दो में भी जहां हार-जीत का अंतर बड़ा था वहां कांग्रेस समझौता कर लोकसभा के लिए अधिक दबाव बनाने का प्रयास करेगी।

यह भी पढ़ें: ममता के मंच से अखिलेश यादव ने भरी हुंकार.. चुनाव के समय मोदी सरकार CBI और ED से किया गठबंधन


हाल ही में कांग्रेस को बिहार, झारखंड और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में शानदार जीत हासिल हुई थी। उसके बावजूद भी कांग्रेस विधानसभा चुनाव से संबंधित सीटों को त्यागने के लिए तैयार है जिससे कि वह लोकसभा के अधिक से अधिक हिस्से का हिस्सा बन सकें। कयास लगाए जा रहे हैं कि इससे महागठबंधन की छोटी पार्टियों को नुकसान उठाना पड़ सकता है।
हालांकि राजद और झामुमो जैसी पार्टियों के लिए कांग्रेस के बाधक नहीं बनने की बात भी कही जा रही है। क्योंकि ये पार्टियां कांग्रेस के लिए अधिक भरोसेमंद रही हैं।

 

कांग्रेस की इस तमन्ना का शिकार कौन बनेगा
लोकसभा में अधिक सीट जीतने की कांग्रेस की इच्छा का शिकार कौन बनेगा यह अहम सवाल है। झामुमो को इसका नुकसान नहीं उठाना पड़ेगा क्योंकि यह मोर्चा कांग्रेस से अधिक नहीं तो कम सीटें भी नहीं लेने को तैयार है। 

यह भी पढ़ें: कोलकाता रैली से ठीक एक दिन पहले राहुल गांधी ने ममता बनर्जी को लिखा खत..
महागठबंधन की बात करें तो झामुमो और कांग्रेस बराबर-बराबर सीटें बांट सकती है। झामुमो और कांग्रेस दोनों 6-6 सीटों पर बंटवारा कर सकती हैं। गीता कोड़ा हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुई हैं। खबर है कि उनके या उनके पति के लिए एक सीट छोड़ने की बात चल रही है लेकिन इस सीट की कुर्बानी किसे देनी होगी यह अभी स्पष्ट नहीं है।  


 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार