दिल्ली में आज भी कड़ाके की ठंड, 2.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ न्यूनतम तापमान

डीएन ब्यूरो

दिल्ली में रविवार को शीतलहर और ठिठुरन वाली ठंड का प्रकोप जारी रहा और न्यूनतम तापमान 2.0 डिग्री सेल्सियस तक गिर जाने से लोगों का ठंड से बुरा हाल है।

ठंड से ठिठुरते लोग
ठंड से ठिठुरते लोग

नई दिल्ली: दिल्ली में रविवार को शीतलहर और ठिठुरन वाली ठंड का प्रकोप जारी रहा और न्यूनतम तापमान 2.0 डिग्री सेल्सियस तक गिर जाने से लोगों का ठंड से बुरा हाल है। दिल्ली में 14 दिसम्बर से शीतलहर का प्रकोप शुरू हुआ था और अभी अगले तीन दिनों तक बने रहने की आशंका है। वर्ष 1901 के बाद यह दूसरी बार है जब राजधानी में इतने लंबे समय तक शीतलहर का प्रकोप बना हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार आज सुबह 8.30 बजे सबसे कम तापमान आया नगर में 2.0 डिग्री सेल्सियस, दिल्ली विश्वविद्यालय में 3.0, नरेला में 2.0 जबकि सफदरजंग में तापमान 2.0 और पालम में 3.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आज सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 100 प्रतिशत दर्ज की गयी।

यह भी पढ़ें: ठंड का कहर कूड़ा जलाकर ठिठूरन से राहत पा रहे लोग, प्रशासन नहीं कर रहा कोई व्यवस्था
मौसम विभाग के अनुसार आज दिन का अधिकतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। शनिवार की सुबह न्यूनतम तापमान 1.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। मौसम विभाग का कहना है कि दिसंबर में इस साल औसत अधिकतम तापमान अब तक 19.85 डिग्री सेल्सियस रहा है और वर्ष के आखिरी दिन यह 19.15 डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है। विभाग का मानना है कि यदि अधिकतम तापमान 19.15 तक गिरता है तो यह 1901 के बाद दूसरा मौका होगा जब दिसंबर सबसे ठंडा होगा। बाईस साल पहले दिसंबर 1997 में औसत अधिकतम तापमान 17.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था और इस प्रकार 1997 के बाद से दिसंबर माह में सबसे अधिक ठंडे दिन रहे हैं। आगामी एक और दो जनवरी को ओलावृष्टि के अनुमान के चलते नये वर्ष के जश्न में खलल भी पड़ सकता है। विभाग का मानना है कि तीन जनवरी तक पहाड़ी क्षेत्रों में जोरदार हिमपात होगा। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार