चिन्‍मयानंद केस: लड़की के परिवार को लेकर पुलिस दिल्ली रवाना, SC ने दिए थे निर्देश

डीएन ब्यूरो

दिल्‍ली पुलिस छात्रा को लेकर दो गाड़ियों से शाहजहांपुर से दिल्‍ली के लिए रवाना हो गई है। लड़की के पिता ने बताया कि वह अपनी बेटी से मिलने जा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने उन्‍हें दिल्‍ली लाने के निर्देष दिए थे। डाइनामइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..

दिल्‍ली पुलिस बांये और सुप्रीम कोर्ट दांये (फाइल फोटो)
दिल्‍ली पुलिस बांये और सुप्रीम कोर्ट दांये (फाइल फोटो)

शाहजहांपुर: स्वामी चिन्मयानंद प्रकरण (Swami Chinmayananda Case) में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के निर्देशों पर दिल्ली पुलिस की एक टीम छात्रा के माता-पिता को उससे मिलवाने के लिए शाहजहांपुर से लेकर दिल्ली रवाना हुई है। लड़की के पिता ने फोन पर बताया कि शनिवार को दिल्ली पुलिस ने Supreme Court की ओर से दिए गए निर्देश की कॉपी देते हुए बताया कि अदालत के निर्देशों के अनुसार उन्हें उनकी बेटी से मिलवाने के लिए दिल्ली चलना है। 

यह भी पढ़ें: डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव में दिखी महिला सशक्तिकरण की झलक, पहुंची तीन वर्षों की महिला टॉपर्स, राष्ट्रपति के सचिव रहे मुख्य अतिथि

इस दौरान छात्रा के पिता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि लड़की के पिता ने कहा कि उन्‍हें अपनी बिटिया से दोबारा मिलने पर बेहद खुशी है। साथ ही बेटी से मिलकर कोर्ट से न्याय मांगने की गुजार लगाएंगे। साथ ही बेटी के पास चिन्यमयानन्द के खिलाफ जो भी साक्ष्य उन्‍हें न्यायालय में प्रस्तुत करेंगे।

यह भी पढ़ें: राष्ट्रपति के सचिव संजय कोठारी ने कहा- आईएएस की परीक्षा में विषयों का सही चयन बेहद जरुरी

शाहजहांपुर की एलएलएम की छात्रा के कल दिल्ली हाई कोर्ट में पेश होने के बाद उच्च न्यायालय ने पीड़िता के परिवार से मिलवाने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद आज दिल्ली पुलिस शाहजहांपुर पहुंची। जहां पीड़ित परिवार को दिल्ली पुलिस बाई रोड ले गई है। पुलिस परिवार के सभी चारों सदस्‍यों को लेकर गई है। 

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने जब लिया संज्ञान तो हरकत में आयी यूपी पुलिस

इस दौरान मीडिया से रूबरू होते हुए पीड़िता के पिता ने कहा उन्‍हें बेहद खुशी है कि वह अपनी बेटी से मिलने जा रहे हैं। ज्ञात हो कि  चिन्मयानंद (Chinmayanand) पर आरोप लगाने वाली शाहजहांपुर की लापता छात्रा राजस्थान के जयपुर से करीब 95 किलोमीटर दूर टोंक से 6 दिन बाद मिली थी। जिसके बाद उसे दिल्ली लाया गया था। 

यह भी पढ़ें: स्वामी चिन्मयानंद मामले में सुप्रीम कोर्ट सख्त, यूपी पुलिस से कहा- लड़की को लाओ अदालत में

गौरतलब है कि शाहजहांपुर के पढ़ाई कर रही छात्रा ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो जारी कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से न्याय की गुहार लगाई थी। इस वीडियो में पीड़िता ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्वामी चिन्मयानंद पर गंभीर आरोप लगाए थे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …