महराजगंज: हाईवे निर्माण में जुटे इंजीनियरों व ठेकेदारों की लापरवाही चरम पर

डीएन ब्यूरो

नागरिकों के विरोध के बावजूद नगर के अंदर से जबरन हाईवे निकालने पर आमादा एनएचएआई के इंजीनियरों और ठेकेदारों की लापरवाही चरम पर है। सड़क किनारे पेड़ों को लापरवाही से काटने का अजब नमूना सामने आया है। पेड़ की टहनी बिजली के तारों पर झूल रही है लेकिन सिस्टम के जिम्मेदारों को इससे कोई फर्क नही पड़ता, वे तब जागेंगे जब कोई बड़ा हादसा हो जायेगा। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


महराजगंज: कस्बे में हाईवे निर्माण में जुटे इंजीनियर और ठेकेदारों की लापरवाही के मामले बढ़ते जा रहे हैं। बीच कस्बे से हाईवे निर्माण के मामले में यहां के इंजीनियर और ठेकेदार इतने लापरवाह हैं कि इन्हें अनहोनी का भी ख्याल नहीं। इसका ताजा मामला देखने को मिला फरेंदा रोड से महराजगंज कस्बे की तरफ़ जाने वाले सड़क के किनारे। यहां पेड़ काटे जाने से बिजली के तार पर पेड़ का डाल लटकने लगी।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: नेशनल हाइवे Vs बाई-पास, कुछ सुलगते सवाल..

इसे लंबे समय तक हटाया नहीं गया। यह टूटी डाल फरेंदा रोड पर जिला मुख्यालय से 100 मीटर आगे महराजगंज कस्बे की तरफ़ जाने वाले सड़क के किनारे स्थित है। यदि कोई हादसा होता है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा। वहीं दूसरी तरफ बिजली विभाग के अभियंता कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं।

बिजली के तार पर लटकती  टूटी टहनी

 

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने यूपी एसटीएफ के काम को सराहा और कहा की लगातार प्रदेश में यूं ही चलते रहेंगे ऑपरेशन

इस बारे में जब महराजगंज के एक्सईएन से जानकारी लेने की कोशिश की गई तो पहले बताया कि अभी बाथरूम में हैं बाद में बताते हैं। फिर दोबारा जब जानकारी लेने की कोशिश की गई तो साहब ने फोन ही नहीं उठाया। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार