बिहार: इस सांसद का फर्जी सचिव बन कर घूमता था 'बमबम', कसा शिकंजा तब खुली पोल

डीएन ब्यूरो

पूर्व मंत्री व वर्तमान जदयू सांसद के प्राइवेट PA बताकर ठगी करने वाले पर कसा शिकंजा। अधिकारी से लेकर चपरासी तक सब पर धौस जमाता था यह फर्जी पीए, अब पुलिस के हत्‍थे चढ़ा। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंगेर: स्‍थानीय JDU सांसद ललन सिंह का पर्सनल असिस्‍टेंट बताकर ठगने वाले को पुल‍िस ने दबोच लिया है। युवक इसी फर्जी PA के दम पर ही सरकारी नौकरी और ठेकेदारी दिलाने के नाम पर ठगी किया करता था। जिसकी कई बार शिकायतें भी लोगों ने की। 

यह भी पढ़ें: चार नामी आईएएस टॉपर्स देंगे नौजवानों को आईएएस की परीक्षा में सफल होने का मूलमंत्र

बमबम सिंह नाम के यह व्‍यक्ति खुद को पूर्व मंत्री व वर्तमान सांसद ललन सिंह का पीए बताता था। इसी की धौंस में वह नौकरी और ठेकेदारी दिलाने के नाम पर ठगी करता था। कई बार तो सरकारी अफसरों को भी उसने चकमा दिया है। जिनसे उसने काम निकलवाने का प्रयास किया है। 

जदयू सांसद ललन सिंह

प्राप्‍त जानकारी के अनुसार उसे मंगलवार की रात को मुंगेर परिसदन के कमरा नंबर सात से गिरफ्तार किया गया है। उसने खुद को बीएसएफ का जवान बताया लेकिन पता चला कि वह नौकरी छोड़कर गांव भाग आया था। 

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’: आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

फर्जी पीए बताने वाला बमबम टेटिया बम्बर थाना क्षेत्र के भूना गांव का रहने वाला है। वहीं उसके इस फर्जी PA वाले कारनामे में कई और लोग भी सहयोग करते थे जिन्‍हें भी हिरासत में लिया गया है। उनके पास से हरियाणा नंबर का बुलेट और स्‍कॉर्पियो भी जब्त किया है

पुलिस ने उसकी निशानदेही पर भूना गांव निवासी विजय कुमार सिंह व लदमा गांव निवासी गांधी मंडल को हिरासत में लिया। गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश में पुलिस छापामारी कर रही है। 

वहीं पूरे मामले पर ललन सिंह ने कहा कि फर्जी पीए की जानकारी मिलते ही एसपी को इस संबंध में जानकारी दे दी थी। वहीं पुलिस पूछताछ कर पता लगा रही है कि इस गिरोह में और कौन-कौन शामिल है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार