Sports: बजरंग और रवि ने जीता कांस्य, सुशील क्वालिफिकेशन में हारे

डीएन ब्यूरो

विश्व के नंबर एक पहलवान बजरंग पुनिया (65 किग्रा) और रवि कुमार (57 किग्रा) ने देश को ओलम्पिक कोटा दिलाने के बाद शुक्रवार को विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीत लिए

पहलवान बजरंग पुनिया

नूर सुल्तान: विश्व के नंबर एक पहलवान बजरंग पुनिया (65 किग्रा) और रवि कुमार (57 किग्रा) ने देश को ओलम्पिक कोटा दिलाने के बाद शुक्रवार को विश्व कुश्ती प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीत लिए जबकि दो बार के ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार को 74 किग्रा फ्रीस्टाइल ओलंपिक वज़न वर्ग के क्वालिफिकेशन में हार का सामना करना पड़ा। बजरंग ने 65 किग्रा वर्ग में देश को ओलम्पिक कोटा पहले ही दिला दिया था और आज उन्होंने कांस्य पदक जीतकर नया इतिहास बना दिया।

यह भी पढे़ं: पूर्व क्रिकेटर कपिल देव हरियाणा खेल विश्वविद्यालय के कुलाधिपति नियुक्त

बजरंग ने मंगोलिया के तुलगा तुमुर ओचिर को बेहद संघर्षपूर्ण मुकाबले में 8-7 से हराकर कांस्य पदक जीता। बजरंग का विश्व चैंपियनशिप में यह तीसरा पदक है और वह विश्व चैंपियनशिप में तीन पदक जीतने वाले पहले भारतीय पहलवान बन गए हैं। बजरंग ने 2018 में बुडापेस्ट में 65 किग्रा में रजत पदक और 2013 में बुडापेस्ट में ही 60 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक जीता था।

यह भी पढे़ं: चारों भारतीय ग्रीको रोमन पहलवानों को पहले मुकाबले में मिली हार

रवि कुमार ने फ्रीस्टाइल के ओलंपिक वज़न वर्ग 57 किग्रा में ईरान के रेजा अहमदअली अत्रीनाघारची को 6-3 से पराजित कर विश्व चैंपियनशिप में अपना पहला पदक जीता। भारत को प्रतियोगिता में सुशील के क्वालिफिकेशन में हार जाने से सबसे ज्यादा निराशा हाथ लगी। सुशील को 74 किग्रा में, किरण को 70 किग्रा में परवीन को 92 किग्रा में और सुमित को 125 किग्रा में हारकर बाहर हो जाना पड़ा।

यह भी पढे़ं: टीम इंडिया में बड़े बदलाव के संकेत बतौर ओपनर मैदान में उतर सकते हैं ये खिलाड़ी

अब भारत की उम्मीदें जूनियर विश्व चैंपियन दीपक पुनिया से 86 किग्रा में और मौसम खत्री से 97 किग्रा ओलम्पिक वजन वर्गों में रहेंगी जो शनिवार को अपने मुकाबलों में उतरेंगे। भारत को इस टूर्नामेंट में अब तक तीन ओलंपिक कोटा मिले हैं। बजरंग और रवि के अलावा महिला पहलवान विनेश फोगाट ने भारत को ओलंपिक कोटा दिलाया है। ( वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार