DN Exclusive: एडीजी ने सौंपी डीजीपी को रिपोर्ट, सुपरकाप अमिताभ यश पर लगे आरोप निकले झूठे

श्रीजा चौधरी

एक सप्ताह की जांच के बाद एडीजी आनंद कुमार ने अपनी विस्तृत जांच रिपोर्ट डीजीपी कार्यालय को सौंप दी है।

यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश
यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश

नई दिल्ली: पंजाब के एक गैंगेस्टर को यूपी पुलिस द्वारा छोड़े जाने के कथित मामले की जांच रिपोर्ट गुरुवार शाम को पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह को अपर पुलिस महानिदेशक (लॉ & आर्डर) आनंद कुमार ने सौंप दी है।

यह भी पढ़ें: किसने रची सुपरकाप अमिताभ यश को फंसाने की साजिश? 

डाइनामाइट न्यूज़ को मिली जानकारी के मुताबिक इस रिपोर्ट के निष्कर्ष के बारे में शुक्रवार को डीजीपी कार्यालय एक प्रेस नोट जारी कर सकता है।

यूपी एसटीएफ का लोगो

करीब एक सप्ताह पहले इस मामले पर सोशल मीडिया में अफवाह उड़ाये जाने के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने का निर्णय लिया और जांच अधिकारी बनाया गया अपर पुलिस महानिदेशक (लॉ & आर्डर) आनंद कुमार को।

यह भी पढ़ें: STF की छवि को धूमिल करना नामुमकिन- अमिताभ यश, आईजी, यूपी एसटीएफ

मामले की जांच के लिए आनंद चंडीगढ़ गये और वहां पंजाब पुलिस के कस्टडी में बंद अपराधियों से एक-एक कर पूछताछ की। जांच के दौरान एडीजी ने इस पूछताछ की रिकार्डिंग भी की। इसके बाद लखनऊ आकर आनंद ने एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश से उनका पक्ष जाना।

डाइनामाइट न्यूज़ को मिली खबर के मुताबिक इस विस्तृत जांच में आईपीएस अमिताभ यश पर लगाये गये आरोप पूरी तरह तथ्यहीन और बेबुनियाद निकले हैं। 

क्या है मामला
अपने एनकाउंटर्स को लेकर चर्चा में रहने वाले यूपी कैडर के 1996 बैच के आईपीएस अफसर अमिताभ यश पर सोशल मीडिया के माध्यम से 19 सितंबर को एक झूठा आरोप लगाया गया कि पंजाब के नाभा जेल ब्रेक मामले में फरार चल रहे गैंगेस्टर गुरुप्रीत सिंह उर्फ गोपी घनश्यामपुरा को उत्तर प्रदेश में एसटीएफ ने पहले तो पकड़ा औऱ बाद में छोड़ दिया, इसके लिए एक करोड़ रुपये में डील तय हुई तथा 45 लाख रुपये दे भी दिये गये। इसके पीछे ‘दो’ आईजी स्तर के अधिकारियों के नाम आये लेकिन सुर्खियां बना सिर्फ एक नाम। दो अपराधियों के बीच बातचीत की आडियो क्लिप में कहा गया कि एक राजनीतिक दल से संबंध रखने वाले संदीप तिवारी उर्फ पिंटू ने अपने एक रिश्तेदार आईजी के माध्यम से दूसरे आईजी अमिताभ यश से संपर्क कर गैंगेस्टर गोपी को छुड़वा दिया। 

वीडियो: देखिये दबंग आईपीएस अमिताभ यश का सबसे धमाकेदार इंटरव्यू

किसने रची साजिश
जांच रिपोर्ट में अमिताभ यश के बेदाग निकलने के बाद अब भी यह यक्ष प्रश्न बना हुआ है कि सुपरकाप को फंसाने की साजिश आखिर रची किसने? सूत्रों के मुताबिक इस षड़यंत्र के पीछे सूबे के ही एक अफसर हैं। खबर यह भी है कि इस अफसर के षड़यंत्र के बारे में सीएम को अवगत करा दिया गया है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार