सपा प्रमुख अखिलेश यादव की इच्‍छा, गठबंधन की ओर से 'नेताजी' बनें प्रधानमंत्री

डीएन ब्यूरो

सपा प्रमुख ने कहा देश की जनता की मांग है कि अब भारत को एक नया प्रधानमंत्री मिले। जो गरीबों और मजलूमों की बात करे उनके कल्‍याण के लिए कार्य करे। और हम जानते हैं कि भाजपा की बुरी नीतियों पर रोक उत्‍तर प्रदेश का यह गठबंधन ही लगाएगा।

मुलायम सिंह यादव (फाइल फोटो)
मुलायम सिंह यादव (फाइल फोटो)

लखनऊ: लोकसभा चुनाव का दंगल अपने अंतिम दौर में पहुंचने वाला है। पांचवें चरण के मतदान की तैयारी सभी नेता और दल जुटे हुए हैं। वहीं उत्‍तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बसपा गठबंधन की जोरदार टक्‍कर भारतीय जनता पार्टी से चल रही है। एक-एक वोट के लिए जिस तरह का माहौल बना हुआ है इसी बीच सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने मुलायम सिंह यादव को बनते देखने की अपनी इच्‍छा प्रकट की है। उनके इस बयान से पक्ष हो या विपक्ष दोनों ओर एक नई सुगबुगाहट शुरू हो गई है।

अखिलेश यादव ने एक इंटरव्‍यू में प्रधानमंत्री के सवाल पर कहा कि हमारा गठबंधन चाहता है कि देश को एक नया प्रधानमंत्री मिले, जब सीटें सामने आएंगी तो उसके बाद पार्टी पीएम का उम्मीदवार भी तय करेंगे।

अयोध्‍या में मोदी ने मायावती पर कसा तंज.. बोले- बाबा साहेब के नाम पर उनके आदर्शों के विपरीत किए काम

इसके बाद उन्‍होंने जोड़ते हुए कहा कि अच्छा होगा, यदि नेताजी को यह सम्मान मिले, लेकिन मुझे लगता है, वह संभवतः प्रधानमंत्री पद की दौड़ में शामिल नहीं हैं। 

राजनीति में कहा जाता है कि 'कुछ भी यूं ही बोला और कहा नहीं जाता है। उसकी एक अपनी पृष्‍ठभूमि होती है साथ ही भविष्‍य की एक योजना भी।' ऐसे में क्‍या मान लेना चाहिए कि गठबंधन की ओर से नेता जी के नाम को आगे किया जा रहा है।

वाराणसी से प्रधानमंत्री के खिलाफ ताल ठोंकने वाले सपा प्रत्‍याशी तेज बहादुर यादव का नामांकन खारिज

वहीं उन्‍होंने बीते दिन प्र‍ियंका के बयान पर भी कहा कि मुझे नहीं लगता है कि कांग्रेस ने ऐसा कुछ किया होगा, क्योंकि कोई भी पार्टी ऐसा नहीं करना चाहती है। लोग कांग्रेस के साथ नहीं हैं। अखिलेश ने आरोप लगाया कि बीजेपी और कांग्रेस में कोई अंतर नहीं है।

रायबरेली में आज प्रियंका ने भाजपा को हराने की रणनीति का किया खुलासा

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी ने रायबरेली में चुनाव के प्रचार के दौरान एक बातचीत में क‍हा था कि हमने ऐसे उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं जो या तो बीजेपी को हरा रहे हैं, या फिर बीजेपी के वोट काट रहे हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …