रायबरेली में आज प्रियंका ने भाजपा को हराने की रणनीति का किया खुलासा

डीएन ब्यूरो

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रायबरेली में मीडिया से बातचीत में कहा कि भाजपा को उत्‍तर प्रदेश में तगड़ा झटका लगने वाला है। हम उन्हें कई सीटों पर कड़ी टक्कर दे रहे हैं और जहां पर हमारा प्रत्याशी कमजोर है वहां पर ऐसे लोगों को लड़ाया है जो भाजपा का करारी चुनावी चोट देंगे।

रायबरेली में प्रियंका गांधी वाड्रा
रायबरेली में प्रियंका गांधी वाड्रा

रायबरेली: उत्‍तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव अब पांचवें चरण में पहुंच गया है। चार चरणों में हो चुके मतदान को लेकर राजनीतिक दल अपने अपने दावे भी कर रहे हैं। पांचवे चरण से पहले कांग्रेस महासचिव और पूर्वी उत्‍तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका वाड्रा ने दावा किया है कि यूपी में भाजपा को तगड़ा झटका लगने वाला है। हमने कई सीटों पर सिर्फ भाजपा को हराने के लिए उम्‍मीदवार उतारे हैं जो भाजपा का वोट काटकर उसे हराएंगे।

प्रियंका वाड्रा रायबरेली में पांचवे चरण के लिए धुआंधार प्रचार कर रही हैं। पिछले कई दिनों से वह पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में भी समर्थन जुटाने के लिए लगातार जनसंपर्क कर रही हैं। ज्ञात हो कि रायबरेली और अमेठी में पांचवे चरण में 6 मई को मतदान होगा। जिसके लिए भाजपा कांग्रेस दोनों ने ही पूरी ताकत झोंक दी है।

प्रियंका वाड्रा ने रायबरेली में कहा, भाजपा को उत्तर प्रदेश में बड़ा झटका लगेगा। भाजपा वाले बुरी तरह हारेंगे। जिन सीटों पर कांग्रेस मजबूत है और हमारे उम्‍मीदवार कड़ी टक्कर दे रहे हैं, वहां इस बार कांग्रेस ही जीतेगी। वहीं जहां हमारे उम्मीदवार थोड़े कमजोर हैं वहां हमने ऐसे उम्मीदवार दिए हैं जो बीजेपी का वोट काट कर उसको नुकसान पहुंचा पाएं।

पीएम मोदी के सामने वाराणसी से चुनाव लड़ने वाले तेजबहादुर यादव के नामांकन पर मंडराया खतरा

वाराणसी से चुनाव न लड़ने की बताई वजह

प्रियंका वाड्रा ने कहा कि देखिए यहां पर काम बहुत है। अगर मैं वाराणसी से लड़ती तो वाराणसी तक सीमित रहती। जबकि मेरा काम पूर्वी यूपी में उससे कहीं ज्यादा है। हर उम्मीदवार चाहते हैं कि मैं उनके लिए जाकर प्रचार करूं, मैं उन्हें निराश भी नहीं करना चाहती हूं। मैंने शुरू से कहा था कि जो पार्टी निर्णय लेगी, वही करूंगी। अगर वो चाहते मैं लड़ूं तो मैं लड़ती, ना चाहती तो मैं नहीं लड़ती।

हालांकि कांग्रेस इंडियन ओवरसीज प्रमुख सैम पित्रोदा ने कुछ दिन पहले प्रियंका गांधी के चुनाव न लड़ने पर कहा था कि चुनाव न लड़ने का फैसला प्रियंका गांधी का था। इसलिए यह उनका फैसला था और उन्होंने यह निर्णय लिया। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …