उन्‍नाव रेप पीड़िता से मिलने लखनऊ के केजीएमसी ट्रॉमा सेंटर पहुंचे अखिलेश यादव

डीएन ब्यूरो

समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव उन्नाव रेप पीड़िता से मिलने लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। उन्‍होंने कहा कि उत्तर प्रदेश से राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री फिर भी बेटी सुरक्षित नहीं है। योगी सरकार पर भरोसा नहीं कर सकते, जजों की जांच कमेटी बना कर मामले की जांच करवाई जाए। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पूरी खबर..


लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव उन्नाव रेप पीड़िता का स्वास्थ्य जानने एवं संवेदना व्यक्त करने के लिए लखनऊ के केजीएमसी ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि उत्तर प्रदेश से राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री फिर भी बेटी सुरक्षित नहीं है। रेप पीड़िता के साथ हुआ उसके लिए पूरी तरह से सरकार जिम्‍मेदार है। 

प्रदेश सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की किसी भी बात पर आप भरोसा नहीं कर सकते हैं। पीड़ित परिवार अपने परिवार के सदस्य को जेल से बाहर निकालने के लिए धरने पर बैठा हैं क्यों उसे जेल में रखा हैं। पीड़िता के पिता की हत्या की गई जब वह अपनी बेटी के लिए न्‍याय मांगने पहुंचा था। सरकार को सामने आकर पीड़ित की मदद करनी चाहिए।

आरोपी उत्तर प्रदेश की जेल में हैं कौन नहीं जानता आज उत्तर प्रदेश की जेलों में क्या क्या हो रहा है। जेल में हत्या हो रही हैं। जनता ने बड़ी उम्मीद से ये सरकार बनवाई हैं। सरकार की जिम्मेदारी हैं कि जनता की बात सुनी जाए। अब अगर एक बेटी को न्याय नहीं मिलेगा तो कौन विश्वास करेगा सरकार पर?

रेप पीड़ि‍ता के परिजनों से बातचीत करते अखिलेश यादव 

अखिलेश यादव ने गैंगरेप पीड़िता के धरने पर बैठे परिवारीजनों से भी मुलाकात की और उन्‍हें इंसाफ होने का भरोसा दिलाया। 

यह भी पढ़ें: DN Exclusive: उन्नाव रेप पीड़िता का एक्सीडेंट- हादसा Vs सुनियोजित हमला

वहीं उन्‍नाव रेप पीड़िता का परिवार आज केजीएमसी के बाहर धरने पर बैठा हुआ है। परिजनों को कहना है कि जल्‍द से जल्‍द कुलदीप सेंगर को सजा मिलनी चाहिए। साथ ही पीड़िता के परिवार के लोग रायबरेली जेल में बंद चाचा के खिलाफ दर्ज सभी मुकदमा वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: उन्नाव रेप कांड पर अखिलेश यादव का बड़ा बयान, आरोपी MLA के यूपी की जेल में रहने तक पीड़िता को नहीं मिलेगा न्‍याय

गौरतलब है कि बीते दिन भी अखिलेश यादव ने संसद परिसर में मीड‍िया से बातचीत के दौरान यूपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि पीड़िता को सुरक्षा प्रदान की गई है लेकिन दुर्घटना के दौरान उनके साथ एक भी सुरक्षाकर्मी मौजूद नहीं था।

साथ ही उन्‍होंने कहा था कि यूपी की सरकार भरोसा दिला रही है उसे न्‍याय मिलेगा लेकिन जब तक विधायक उत्‍तर प्रदेश की जेल में है तब तक उसे न्‍याय नहीं मिल सकता। उसको न्‍याय दिलाने के लिए अधिकारियों को भी निष्‍पक्ष होकर जांच करनी होगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …