DN Exclusive: उन्नाव रेप पीड़िता का एक्सीडेंट- हादसा Vs सुनियोजित हमला

डीएन ब्यूरो

उन्नाव रेप पीड़िता की रहस्यमय परिस्थियों में हुई सड़क दुर्घटना मामले में सवाल उठने शुरु हो गये हैं। क्या यह संयोग से हुई एक सड़क दुर्घटना है या फिर इसमें कोई साजिश रची गयी है? डाइनामाइट न्यूज़ की पूरी पड़ताल..

हादसे की तस्वीर
हादसे की तस्वीर

लखनऊ: उन्नाव के माखी के चर्चित रेपकांड की पीड़िता की कार रविवार दोपहर रायबरेली जिले के गुरुबख्शगंज क्षेत्र में अटौरा गांव के पास सामने से आ रहे ट्रक से भिड़ गई। जिसमें से दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि रेप पीड़िता और वकील समेत तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गये। इस मामले को लेकर लोग तरह-तरह के सवाल खड़े कर रहे हैं। लोगों को संदेह है कि यह महज एक संयोग भरी सड़क दुर्घटना नही हैं तो क्या इसके पीछे कोई साजिश है? 

उन्नाव के भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर पीड़िता के साथ दुष्कर्म का आरोप है औऱ वे इस समय जेल में बंद हैं। चर्चा है कि क्या कहीं सबूत मिटाने के लिए तो नहीं पीड़िता पर सुनियोजित हमला कराया गया। इस बारे में जब यूपी के डीजीपी ओपी सिंह से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया यह सड़क हादसा ही लगता है लेकिन यदि इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की जाती है तो वे इसकी सिफारिश करने को तैयार हैं। 

डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता के मुताबिक सड़क दुर्घटना के बाद एफएसएल (फोरेंसिक साइंस लैब) की एक टीम रायबरेली भेजी गई है। राज्य के आईजी (कानून और व्‍यवस्‍था) प्रवीण कुमार के अनुसार टीम घटना के सभी बिंदुओं को खंगालेगी। मामले में ट्रक चालक और ट्रक के मालिक से पूछताछ की जा रही है। महत्वपूर्ण बात ये है कि घटना के वक्त ट्रक की नंबर प्लेट पर ग्रीस पोत कर नंबर को छिपाया गया था। इससे शक और बढ़ता है।

इससे पहले युवती ने सीएम आवास के पास आत्‍मदाह का भी प्रयास किया था। 

इधर अब से कुछ देर पहले लखनऊ में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए एडीजी राजीव कृष्णा ने कहा कि आरोपी विधायक के काल डिटेल्स को भी खंगाला जा रहा है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार