UP की राजधानी में फर्राटा नहीं दौड़ पाएंगे वाहन, ओवरस्‍पीड‍िंग पर होगी बड़ी कार्रवाई

डीएन ब्यूरो

यूपी की राजधानी लखनऊ में ओवरस्पीड के कारण होने वाले हादसों पर लगाम लगाने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने सख्त निर्देश जारी किए है। शहर के अंदर 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज वाहन दौड़ाने वालों पर सख्‍त कार्रवाई की जाएगी। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..


लखनऊ: युपी की राजधानी में फर्राटा भरने वाले वाहनों की वजह से होने वाले हादसों पर लगाम कसने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने अब कमर कस ली है। शहर में अब 40 से अधिक की रफ्तार पर वाहन दौड़ाने वालों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’: आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

इस संबंध में एसपी ट्रैफिक पूर्णेन्दु सिंह ने बताया की जिन रास्तों पर लोग फर्राटा भरते हैं उन रास्‍तों के एंट्री गेट पर यातायात पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। 

वहीं जिन स्थानों पर पुलिसकर्मी नहीं होंगे वहां पर सीसीटीवी कैमरों की मदद से ओवर स्पीडिंग पर नजर रखी जाएगी। हाई स्‍पीड पर चलने वालों  के घर चालान भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें: राम मंदिर मामला- सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई में नए बदलाव से मुस्लिम पक्षकार नाखुश

उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में तेज रफ्तार वाहनों को नहीं चलाने दिया जाएगा। इसका मुख्य मकसद दुर्घटनाओं को रोकना है। इसके लिए बकायदा स्कूली वाहनों, गलत साइड में चलने वालों, हेलमेट के बिना, सीट बेल्ट आदि के लिए लगातार जांच की जाती रहेगी। 

चेकिंग का यह रहेगा समय

स्कूली वाहनों की जांच के लिए सुबह 6:00 से 8:00 और दोपहर 2:00 से 4:00 का समय तय किया गया है। जबकि गलत साइड, हेलमेट सीट बेल्ट की जांच के लिए शाम 6:00 से रात 8:00 बजे तक का समय तय किया गया है।

जल्‍द लगाए जाएंगे चेतावनी बोर्ड

ट्रैफिक पुलिस की ओर से लखनऊ नगर निगम आदेश की कॉपी भेज दी गई है।जिसमें कहा गया है कि जिन सड़कों पर ओवर स्पीडिंग को लेकर चेतावनी बोर्ड नहीं लगे हैं वहां पर जल्द से जल्द लोगों को सावधान करने के लिए बोर्ड लगा दिए जाएं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …