यूपी एसटीएफ ने किया फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़

डीएन संवाददाता

यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के नेतृत्व में उनकी टीम ने राज्य के कई जिलों में फैले फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले एक कुख्यात गिरोह का भंडाफोड़ कर 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।


लखनऊ: यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के नेतृत्व में उनकी टीम को आज एक और बड़ी सफलता हाथ लगी। एसटीएफ ने फर्जी आधार कार्ड बनाने वाले एक कुख्यात गिरोह का भंडाफोड़ कर 10 लोगों को गिरफ्तार किया। इस गिरोह का सरगना आधार कार्ड बनाने वाले सरकारी प्राधिकरण यूआईडीएआई में आपरेटर का काम करते थे। एसटीएफ ने इनके पास से लैपटॉप, प्रिटिंग मशीन और फिंगर स्कैनर जैसे उपकरण भी बरामद किये।

यह भी पढ़ें: यूपी एसटीएफ के हत्थे चढ़े दो कुख्यात इनामी डकैत

 

 

फर्जी आधार कार्ड से जुड़े इस गिरोह की जानकारी देते हुए एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि इस गिरोह का जाल यूपी के कई जिलों में फैला था और लम्बे समय से फर्जीवाड़ा कर रहा था। उन्होंने बताया कि यह गिरोह वैध आधार धारक के नकली फिंगर प्रिंट के सहारे फर्जी आधार बनाने के कारनामे को अंजाम देने में जुटा था।

यह भी पढ़ें: UP STF की गिरफ्त में आया गोरखपुर मेडिकल कांड का आरोपी डा. कफील खान

यूपी एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार आरोपी

अमिताभ यश ने बताया कि इस मामले की जानकारी होने पर यूआईडीएआई ने लखनऊ की साइबर क्राइम ब्रांच में मामला दर्ज कराया था। यूआईडीएआई की इस शिकायत पर पुलिस और एसटीएफ ने मिलकर मामले की तहकीकात शुरू की। तब एसटीएफ को इस गिरोह के सरगना के बारे मे पता चला।

यह भी पढ़ें: यूपी एसटीएफ की बड़ी कामयाबी, दरोगा भर्ती पेपर लीक में 7 गिरफ्तार

 

 

एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश ने बताया कि गिरोह का सरगना सौरभ सिंह, शुभम सिंह, कुलदीप और चमन यूआईडीएआई में पहले आपरेटर का काम करते थें।

यह भी पढ़ें: यूपी एसटीएफ ने किया इंश्योरेंस के नाम पर करोड़ों के फर्जीवाड़े का भंडाफोड़

गिरोह द्वारा बनाये गये फर्जी आधार कार्ड

फिलहाल सभी आरोपी एसटीएफ की हिरासत में हैं और उन्हें जेल भेजने की तैयारी हो रही  है।

यह भी पढ़ें: यूपी एसटीएफ ने दबोचा कुख्यात ईनामी बदमाश, दर्जनों वारदातों में था वांछित

फर्जी आधार कार्ड बनाने के उपकरण

एसटीएफ ने जिन 10 लोगों को हिरासत में लिया उनमें सौरभ सिंह, शुभम सिंह, शोभित सचान, शिवम कुमार, मनोज कुमार, तुलसीराम, कुलदीप सिंह, चमन गुप्ता, गुड्डू गौड़ और सतेंद्र कुमार हैं। इनका सरगना कानपुर के विश्व बैंक का सौरभ कुमार है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार