पटरी चटकने से सवा घंटे थमा रहा दिल्ली-हावड़ा रूट पर रेल संचालन, टला बड़ा हादसा

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश मे इटावा के भर्थना रेलवे स्टेशन के पास पटरी चटकने से दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर करीब 32 मिनट रेल यातायात बाधित रहा ।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

इटावा: उत्तर प्रदेश मे इटावा के भर्थना रेलवे स्टेशन के पास पटरी चटकने से दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग पर करीब 32 मिनट रेल यातायात बाधित रहा। भरथना के स्टेशन मास्टर विष्णु प्रताप ने आज यहां कहा कि सोमवार की सुबह पांच बजकर चालीस मिनट पर की मैन रोजाना की तरह रेल पटरियों की जांच कर रहे थे। भरथना रेलवे स्टेशन के पूर्वी ओर पोल संख्या 1136 का 18 व 20 के बीच पटरी चटकी मिली। जिसकी जानकारी अधिकारियों को दी गई। स्टेशन मास्टर ने तेज गति से जा रही नाॅन स्टाॅप मालगाड़ी को पोर्टर राकेश के माध्यम से फ्लैश रेड सिग्नल दिखाया।

यह भी पढ़ें: हेरोइन की तस्करी जोरों पर, एक तस्कर गिरफ्तार 
मालगाडी के चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर मालगाड़ी को रोक दिया। वही पीछे आ रही अन्य ट्रेनों को भी रोका गया। सूचना मिलने पर पहुंची तकनीकी टीम ने पटरी मरम्मत का कार्य शुरू किया। 32 मिनट बाद मरम्मत कार्य होने पर ट्रेनों का संचालन शुरू किया गया। रेलवे ने 30 किमी प्रति घंटा का काॅसन लगाकर ट्रेनों को गुजारा। डाउन लाइन पर एक मालगाड़ी सहित पटना कोटा सुपर फास्ट एक्सप्रेस को इकदिल स्टेशन पर रोका गया।

यह भी पढ़ेंः कुएं में मिली युवक की लाश, गांव में मची सनसनी 
सर्दी का मौसम शुरू होते ही अमूमन इस तरह से रेल पटरियो के टूटने का सिलसिला शुरू हो जाता है। विशेषज्ञ ऐसा मान कर चलते है कि रेल पटरियो के सुकडने की प्रकिया के चलते पटरियाॅ टूटती है जिससे लापरवाही के कारण आये दिन हादसे भी हो जाते है। इसी कारण रेलवे अफसरो की ओर से रेलवे के निचले क्रम के कर्मियो और अधिकारियो को ऐसे निर्देश भी दिये गये है ताकि सर्दी के मौसम मे रेल पटरी टूटने और चटकने के कारण किसी भी तरह का कोई हादसा पेश ना आये। (वार्ता)
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार