Bihar: साथ काम करते हुए दो सिपाहियों को हुआ प्यार, पर बीच में आ गई जाति की दीवार... फिर हुआ ये दर्दनाक हादसा

डीएन ब्यूरो

बिहार में एक ऐसी अनोखी प्रेम कहानी देखने को मिली है, जिसे सुन किसी की भी आंखों में आंसू आ जाएंगे। प्यार में साथ मरने की कसम को दो सिपाहियों ने पूरा किया है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

फाइल फोटो

पटना: जो लोग प्यार में साथ जीने और साथ मरने की कसमें खाते हैं, वो लोग ये कहानी सुन कर इन दो सिपाहियों को सलामी देंगे। ये कहानी उन दो सिपाहियों की जो साथ में काम करते थे, और काम करते-करते ही दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया। पर इस प्यार के बीच में आ गई 'जाती' की दीवार। उसके बाद जो हुआ बेहद ही दर्दनाक है।

यह भी पढ़ें: दोगुनी उम्र की प्रेमिका के साथ नई-नवेली पत्नी को छोड़ भागा युवक, फिर दोनों की हालत देख उड़े लोगों के होश

अपने प्यार को बचाने के लिए पटना के गर्दनीबाग थाना क्षेत्र में झारखंड पुलिस के दो जवानों ने गुरुवार को ट्रेन के आगे छलांग लगा दी। इस हादसे में महिला सिपाही की मौत हो गई और पुरुष अभी तक गंभीर हालत में है। घायल सिपाही को इस वक्त पीएमसीएच में भर्ती है।

यह भी पढ़ें: बिहारी माटी की हो रही चर्चा, किसान का बेटा बना पहला करोड़पति

रेलवे ट्रेक पर मृतिका की लाश

जानकारी के मुताबिक 12 मई को सरोज झा और नंदनी ने एक साथ झारखंड पुलिस के साइबर सेल में नौकरी ज्वाइन की थी। जहां दोनों को एक दूसरे से प्यार हो गया। पर दोनों के घर वाले शादी के सख्त खिलाफ थे। दोनों ने जब घर पर अपने प्यार के बारे में बताया और शादी करने की इच्छा जताई तो नंदनी के घरवालों ने सख्त मना कर दिया। 

सरोज का कहना था कि वह अपने परिजनों को शादी के लिए तैयार करा लेता, लेकिन नंदनी के घरवालों ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी थी। यहां तक कि दो महीने पहले रिश्ते को लेकर वह नंदनी के घर भी गया था। इस दौरान दोनों परिवारों बीच पंचायत भी हुई थी, लेकिन नंदिनी के परिजन शादी को तैयार नहीं हुए।

इन सबके बाद दोनों ने साथ में आत्महत्या की ठान ली। जिसके बाद पटना जंक्शन और सचिवालय हॉल्ट के बीच दोनों जवानों ने सुबह करीब 11 बजे अप लाइन से गुजर रही ट्रेन के आगे छलांग लगा दी। जहां दोनों की पहचान आई कार्ड के आधार पर हुई। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार