महराजगंज: जलकल विभाग की लापरवाही से एक साल पहले बनकर तैयार हो चुकी पानी की टंकी अभी तक नहीं हुई शुरू, ग्रामीणों को पानी का संकट

डीएन ब्यूरो

जलकल विभाग के ढीलेढाले रवैये और क्षेत्रीय नेताओं की आपसी खींचतान के कारण तीन साल में बनकर तैयार होने वाली टंकी पिछले एक साल से पानी की बाट जोह रही है। वहीं जलकल विभाग एक साल बाद भी पानी की टंकी को शुरू करने के लिए गंभीर प्रयास करते नहीं दिख रहा है।


महराजगंज: जिले के मिठौरा क्षेत्र के सिन्दुरियां में बनी पानी टंकी सफेद हाथी की तरह खड़ी है। ग्रामीणा पानी के लिए तरस रहे हैं लेकिन टंकी को तैयार हुए एक साल से भी अधिक होने के बावजूद उसमें पानी भंडारण शुरू नहीं हो पाया है। 

यह भी पढ़ें: सरकारी योजना के होर्डिंग्‍स में प्रधानमंत्री और मुख्‍यमंत्री की तस्‍वीर से खुलेआम हो रहा आचार संहिता का उल्‍लंघन, अफसर बेखबर

महराजगंज के मिठौरा इलाके के सिन्दुरियां में एक पानी की टंकी का निर्माण कराया गया था। मार्च 2018 में यह बनकर पूरी भी हो गई लेकिन आज तक इस टंकी को जल भंडारण के लिए इस्‍तेमाल नहीं किया गया। स्‍थनीय निवासी पानी की समस्‍या से जूझते रहते हैं। प्रशासन अपनी नाकामी पर हाथ रखकर पिछले एक साल से बैठा हुआ है लेकिन कोई समाधानात्‍मक कार्रवाई नहीं कर रहा है।

यह भी पढ़ें: पुलिसिया तांडव ने ब्रिटिश अत्याचार को छोड़ा पीछे, 250 ग्रामीणों पर फर्जी मुकदमा, वर्दी के खौफ से दहशत में आये गांव वाले पलायन को हुए मजबूर

वहीं स्‍थाानीय निवासियों का कहना है टंकी चालू हो जाए तो उनके लिए पानी का संकट खत्‍म हो जाएगा। अप्रैल  2015  में टंकी बननी शुरू हुई थी। मार्च 2018 मे टंकी का काम पूरा भी हो गया लेकिन टंकी से संबंधित कुछ कार्य अभी भी अधूरा है। जिसके लिए वह जलकल विभाग की लापरवाही और स्‍थानीय नेताओं के आपसी खींचतान को जिम्‍मेदार मानते हैं। 

यह भी पढ़ें: अवैध वसूली के लिये शहर कोतवाल के चहेते दरोगा ने बुजुर्ग को पीटा, चुनाव से पहले बड़ा बवाल, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया रास्ता जाम

वहीं कई ग्रामीणों का कहना है कि टंकी पर बनी रेलिंग में बेहद ही खराब किस्‍म का पाइप लगाया गया है। पानी टंकी के इस्‍तेमाल हुए बगैर ही एक साल में पाइप पिचकने लगे हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार