लखनऊ: कमलेश तिवारी हत्या को लेकर अधिवक्ताओं में आक्रोश, प्रशासन को दिया अल्टीमेटम

डीएन ब्यूरो

18 अक्टूबर को हुई कमलेश तिवारी की हत्या को लेकर यूपी के अधिवक्ताओं में तेज आक्रोश है। अधिवक्ताओं ने सारे आरोपियों को पकड़ने और मामले को सुलझाने की मांग की है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


लखनऊ: कमलेश तिवारी की हत्या के बाद अधिवक्ताओं में आक्रोश है, अधिवक्ताओं ने मामले को जल्द सुलझाने के लिए सरकार को अल्टीमेटम दिया है। 

यह भी पढ़ेंः कमलेश तिवारी हत्याकांड में यूपी डीजीपी ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस, ये हैं अहम बातें

अधिवक्ताओं ने कलेक्ट्रेट चौराहे पर आतंकवाद का पुतला फूंका है। साथ ही परिवार को रिहाइश और 50 लाख रूपये की मुआवजे की मांग उठाई है। अधिवक्ताओं ने मुख्य आरोपी को पकड़ने के लिए प्रशासन को 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। मांग पूरी ना होने पर 48 घंटे बाद मुख्यमंत्री का घेराव करेंगे। एडीएम और सीओ चौक दुर्गा प्रसाद तिवारी को ज्ञापन सौंपकर मांग की है।

यह भी पढ़ेंः कमलेश तिवारी हत्याकांड: तीन आरोपी हुए गिरफ्तार

बता दें कि आज दोपहर में मामले में यूपी डीजीपी ओ पी सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया था। इसमें उन्होनें कहा था- तीन आरोपियों को हिरासत में लिया गया है।  सूरत के मौलाना मोसिन सलीम शेख, फैजान जिलानी और रशीद को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही मामले को जल्द से जल्द सुलझाने का दावा किया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार