मुजफ्फरनगर: फरियादी बनकर SSP ऑफिस सरेंडर करने पहुंच गया 50 हजार इनामी विक्‍की राठी

डीएन ब्यूरो

यूपी में अब Operation Clean का असर दिखने लगा है। इसीलिए तो हजारों के इनामी यह कहते हुए पुलिस के पास पहुंचते हैं कि गोली मत मारना सरेंडर कर रहा हूं। ऐसा ही वाकया मुजफ्फरनगर में दिखा जहां विक्‍की राठी ने SSP के सामने सरेंडर कर दिया। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..

पु‍लिस की गिरफ्त में विक्‍की राठी
पु‍लिस की गिरफ्त में विक्‍की राठी

मुजफ्फरनगर: उत्‍तर प्रदेश में बदमाशों पर एनकाउंटर का डर भारी पड़ रहा है। बदमाश चोरी छुपे तरीके से कोर्ट या पुलिस के पास पहुंचकर सरेंडर कर रहे हैं। आज फिर एक लाख के ईनामी बदमाश को पुलिस हिरासत से छुड़ाने वाले 50 हजार इनामी ने SSP मुजफ्फरनगर के आफ‍िस जाकर सरेंडर कर दिया। वहीं एसएसपी को 50 हजारी बदमाश विक्‍की राठी के पकड़ में आने से पूछताछ में और कई खुलासों की उम्‍मीद है। 

यह भी पढ़ें: चार नामी आईएएस टॉपर्स देंगे नौजवानों को आईएएस की परीक्षा में सफल होने का मूलमंत्र

शुक्रवार को 50 हजार रुपये के ईनामी विक्की राठी ने पुलिस आफिस पहुंचकर एसएसपी अभिषेक यादव के सामने सरेंडर कर दिया। फरियादी बनकर SSP दफ्तर पहुंचे युवक ने जैसे ही अपना नाम विक्की राठी बताया तो एसएसपी भी सकते में आ गए और पूछताछ करने लगे। एसएसपी ने तत्‍काल फोर्स को बुलाकर उसे पुलिस को सौंप दिया।

फरियादी बनकर SSP ऑफिस पहुंचा 50 हजार इनामी विक्‍की राठी 

मामले में एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि वह कई मामलों में वांछित था। दो-तीन साल पहले यशपाल राठी मर्डर हुआ था, उस समय भी और उसके बाद भी लगातार अपराधी गिरोह से इसके जुड़े होने के संकेत मिलते रहे थे। 

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’: आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

गौरतलब है कि 2 जुलाई 2019 को मिर्जापुर जेल से पेशी पर मुजफ्फरनगर आए एक लाख के इनामी बदमाश रोहित सांडू को वापस मिर्जापुर लौटते समय जानसठ कस्बे के पास एक होटल पर खाना खाते समय कार सवार बदमाशों ने पुलिस पर हमला करके छुड़ा लिया था। फायरिंग में एक दरोगा दुर्ग विजय की गोली लगने से मौत हो गई थी। पुलिस ने इस पूरी घटना में जहां 6 बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। वहीं 1 लाख के इनामी फरार बदमाश रोहित सांडू सहित 4 बदमाशों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया था। मामले में दो दो बदमाश अब भी फरार हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …