महराजगंज: अभिभावकों ने उठाया जायज सवाल- एवरेस्ट स्कूल की करतूत की सजा छात्रों को क्यों? डीएम से मिले पेरेंट्स

डीएन संवाददाता

बाथरूम में गुप्त कैमरे लगाने की घटना सामने आने के बाद से बंद पड़े जिले के एवरेस्ट स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों के अभिभावकों में भारी निराशा है। उनका कहना है कि स्कूल की करतूत के कारण उनके मासूम और निर्दोष बच्चों की पढाई ठप्प हो गयी है। चिंतित अभिभावकों ने इस संबंध से डीएम से मुलाकात की। पूरी खबर..

अभिभावकों ने दिया जिलाधिकारी को ज्ञापन
अभिभावकों ने दिया जिलाधिकारी को ज्ञापन

महराजगंज: बाथरूम में गुप्त कैमरे लगाने का मामला सामने आने के बाद बंद पड़े एवरेस्ट स्कूल के छात्रों व उनके पेरेन्ट्स को कई तरह के संकट से जूझना पड़ रहा है। अभिभावकों को समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर वे करें तो करें क्या? अभिभावकों का कहना है कि स्कूल की करतूत की सजा उन्हें भुगतनी पड़ रही है। उनके सामने नये स्कूल में बच्चों को दाखिला दिलाने की बड़ी समस्या है, जिसके लिये भारी भरकम धनराशि चाहिये, जिसे वो एवरेस्ट स्कूल में पहले ही दे चुके हैं।

यह भी पढ़ें: मासूम बच्चों ने एवरेस्ट स्कूल खोलने की मांग को लेकर लगाये प्रशासन हाय-हाय के नारे, कड़कड़ाती धूप में सड़क पर किया पैदल मार्च 

 

 

प्रशासन ने नहीं सोचा यह वाजिब सवाल

अभिभावकों में इस बात का भी गुस्सा है कि प्रशासन ने स्कूल के खिलाफ कार्यवाही  कर स्कूल पर ताला तो जड़ दिया है लेकिन अभी तक यह नहीं सोचा कि यहां पढ़ने वाले नौनिहालों की पढ़ाई कैसे होगी। वे पढ़ने के लिये आखिर जायेंगे कहां? 

देखिये कैसा था हिडन कैमरा.. डाइनामाइट न्यूज़ की खबर के बाद जागा प्रशासन, मुकदमा दर्ज, दो गिरफ्तार

राहत की मांग

एवरेस्ट स्कूल के बंद होने के बाद से उक्त तरह की तमाम झंझावतों और परेशानियों से जूझ रहे अभिभावकों ने मंगलावर को जिलाधिकारी से मुलाकात की और इस मामलों में उन्हें कुछ राहत दिलाने की मांग की। इस बाबत अभिभावकों ने जिला मुख्यालय जाकर जिलाधिकारी को एक ज्ञापन भी सौंपा। 

यह भी पढ़ें: महराजगंज: एवरेस्ट स्कूल बंद करने के खिलाफ स्कूली बच्चों ने हनुमानगढ़ी चौराहे पर किया जाम, मचा हड़कंप

स्कूल में भारी भरकम फंसी

 अभिभावकों का कहना है कि विद्यालय में घटित घटना को लेकर वह अपने बच्चों के भविष्य को लेकर बहुत चिंतित हैं। सभी अभिभावक अपने बच्चों की 3 माह की फीस, नामांकन शुल्क, प्रोसेस फी आदि को मिलाकर अग्रिम भुगतान एवरेस्ट स्कूल में जमा करा चुके थे। यह एक भारी भरकम रकम है। उनके पास अब इतना पैसा नहीं कि दोबारा वो किसी अन्य स्कूल में इतनी बड़ी राशि दे सकें।

 महराजगंज से बहुत बड़ी खबर.. इंग्लिश मीडियम स्कूल में लड़कियों के बाथरुम में चोरी से लगाया कैमरा

अन्य स्कूल में कराया जाए एडमिशन

अभिभावकों की मांग है कि प्रशासन उनके बच्चों का एडमिशन किसी अन्य विद्यालय में निशुल्क कराये, जहां वो मासिक आधार पर बच्चों की फीस दे सकें। साथ ही एवरेस्ट स्कूल में जमा कराई धनराशि को उन्हें वापस लौटा दिए जाए। अभिभावकों का कहना है कि स्कूल की करतूत की सजा अभिभावकों और बच्चों को नहीं दी जानी चाहिये। 


 (महराजगंज के एवरेस्ट स्कूल कांड में आज क्या हो रहा है.. पल-पल की जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें 
https://hindi.dynamitenews.com/tag/MRJEverestSchool )

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार