महराजगंज में सरकारी जमीन पर जबरन झंडारोहण को लेकर प्रधान से भिड़े भीम आर्मी के कार्यकर्ता

डीएन ब्यूरो

स्वतंत्रता दिवस पर कोतवाली थाना क्षेत्र के करमहां गांव में सुबह पहले आल इंडिया भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा मचाया। मौके पर भारी संख्या में एसडीएम और सीओ के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने विवाद को शांत कराया। डाइनामाइट न्यूज एक्सक्लूसिव..

स्‍कूल में जबरन झंडारोहण को लेकर हंगामे के बाद मौके पर पहुुूंची पुलिस
स्‍कूल में जबरन झंडारोहण को लेकर हंगामे के बाद मौके पर पहुुूंची पुलिस

महराजगंज: सदर कोतवाली के करमहां गांव में स्थित सरकारी कन्‍या प्राथमिक विद्यालय में झंडारोहण के वक्त आल इंडिया भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा मचाया। स्कूल प्रशासन द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर झंडारोहण किया जा रहा था तभी इसी परिसर में भीम आर्मी के सदस्य आ धमके और चंद कदमों की दूरी पर एक और तिरंगा यह कहते हुए फहराने लगे कि ये जगह अंबेडकर पार्क की है। 

यह भी पढ़ें: चार नामी आईएएस टॉपर्स देंगे नौजवानों को आईएएस की परीक्षा में सफल होने का मूलमंत्र

 

इस बात पर स्कूल प्रशासन से लेकर गांव के प्रधान ने आपत्ति जतायी और कहा कि स्कूल परिसर में चंद कदमों की दूरी पर कैसे अगल-अलग तिरंगा फहराया जा सकता है? इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में जमकर विवाद हुआ, इसके बाद आल इंडिया भीम आर्मी के सदस्यों ने आरोप लगाया कि दूसरे पक्ष के लोगों ने बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर के चित्र को फेंक दिया है। विवाद की सूचना पाकर मौके पर भारी संख्या में एसडीएम और सीओ के नेतृत्व में पुलिस पहुंची और विवाद को शांत कराया।

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’: आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

 

प्रधान रामचंद्र ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि प्राथमिक कन्‍या विद्यालय के चारों ओर पूरी बाउंड्री है। भीम आर्मी के लोग जबरन यहीं पर अंबेडकर के नाम पर झंडारोहण करना चाहते हैं, इस पर मैंने उन लोगों से कहा कि यदि आपको लगता है कि यहां पर आपकी जमीन है तो एसडीएम के पास जाइये और पैमाइश करा लीजिये, फिर जैसा प्रशासन कहेगा वैसा हो जायेगा लेकिन वे इसकी बजाय गुंडागर्दी पर उतारु हो गये और झूठा आरोप लगाने लगे कि अंबेडकर के चित्र को फेंका गया है। 

 

 

वहीं भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने डाइनामाइट न्यूज़ से कहा कि स्‍कूल की जमीन में कुछ जमीन अंबेडकर के नाम की है लेकिन प्रधान ने जबरन विद्यालय को ये जमीन कब्‍जा करा दी है। जब उनसे पूछा गया कि आप पैमाइश के लिए क्यों नही अफसरों के पास जाते तो इस पर वे कोई जवाब नही दे पाये। 

इस संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक आशुतोष शुक्ला ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि मामला संज्ञान में है और इसे समझा-बुझाकर शांत करा दिया गया है। जमीन की पैमाइश कराकर जो न्यायसंगत होगा, वह किया जायेगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …