यूपी निकाय चुनाव में तमाम मतदाता वोटिंग से वंचित, फर्जी वोटिंग की भी कोशिश

डीएन संवाददाता

उत्तर प्रदेश में तीसरे और अंतिम चरण चरण के निकाय चुनाव के लिये मतदान जारी है, लेकिन वोटर लिस्ट में फिर भारी गड़बड़ी सामने आ रही है। वोटर लिस्ट से नाम गायब होने पर मतदाताओं में भारी नाराजगी है।

बलरामपुर में वोटिंग के लिये दिखा दिव्यांग का जोश
बलरामपुर में वोटिंग के लिये दिखा दिव्यांग का जोश

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश में तीसरे और अंतिम चरण के निकाय चुनाव के लिये मतदान जारी है। राज्य के कुछ क्षेत्रों में वोटर लिस्ट से नाम गायब होने पर मतदाताओं में भारी नाराजगी देखी जा रही है। जौनपुर के दो वार्डों के 500 मतदाताओं के नाम वोटर लिस्ट से गायब मिले। इन मतदाताओं में प्रशासन के खिलाफ भारी गुस्सा है। बुलंदशहर में भी कुछ मतदाताओं के नाम वोटर लिस्ट से गायब मिले।

यह भी पढ़ें: यूपी निकाय चुनाव: एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार लखनऊ से डाइनामाइट न्यूज पर LIVE 

 

यह भी पढ़ें: यूपी निकाय चुनाव: लोकतंत्र के पर्व में 104 वर्षीय महिला की अनूठी आस्था

कुछ पोलिंग बूथों पर फर्जी वोटिंग समेत अलग-अलग कारणों से हंगामा होने की खबरें है। मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा पोलिंग बूथ पर फर्जी वोटिंग के आरोप में पुलिस ने तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया। कोतवाली में महिलाओं से पूछताछ जारी है। 

 

बलरामपुर में वोट के लिये कतार में खड़ी महिलायें

 

यह भी पढ़ें: निकाय चुनाव को लेकर जिलाधिकारी वीरेन्द्र सिंह डाइनामाइट न्यूज पर LIVE 

महराजगंज, बलरामपु में 27 फीसदी वोटिंग

राज्य में दोपहर 12:30 बजे तक लगभग 22 से 24 फीसदी मतदान होने की खबरें है। महराजगंज में 12:30 बजे तक 27 फीसदी वोटिंग दर्ज की गयी। कुछ जिलों के संवेदनशील श्रेणी के मतदान केन्द्रों की निगरानी ड्रोन कैमरों के जरिये की जा रही है।बलरामपुर में भी 12:30 बजे तक 27 प्रतिशत मतदान हुआ।

 

 

12 सौ मतदान केंद्र अति संवेदनशील

पूरे राज्य में 3602 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जिनमें से 12 सौ मतदान केंद्र अति संवेदनशील श्रेणी में आते हैं। तीसरे चरण के लिए 71 कंपनी पीएसी, 40 कंपनी सीएपीएफ, 40 हजार होमगार्ड जवान तैनात किए गये हैं। राज्य़ में बरेली, मुरादाबाद समेत पूर्वांचल के कुछ जिले संवेदनशील श्रेणी में रखे गये हैं। इन जिलों में सीसीटीवी कैमरा, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग और हाई क्वालिटी के ड्रोन कैमरों से मतदान पर निगरानी की जा रही है। 

यूपी निकाय चुनाव: भारत-नेपाल सीमा सील, जिले में 7 अति संवेदनशील और 2 उच्च संवेदनशील मतदान केंद्र 
 

 

यह भी पढ़ें: नौतनवा में बवाल के बाद पुलिस के सामने रो पड़े गुड्डू खान, कहा..साहब मुझे मारिये.. 

मायूस हुए मतदाता  

जौनपुर के वार्ड नंबर 28 जोगिजापुर और नख्खास के वोटर आज सुबह बड़े उत्साह के साथ वोटिंग के लिये बूथ पर पहुंचे। वोटिंग से पहले मतदाता सूची में नाम जांचने पर पता चला कि इन मतदाताओं के नाम वोटर लिस्ट में नहीं है। जोगिजापुर और नख्खास के कुल 500 लोगों के नाम वोटर लिस्ट से गायब मिले। इसके बाद ये मतदाता काफी मायूस है। शिकायत के बाद कोई सुनवाई के लिये तैयार नहीं था। इन मतदाताओं में काफी नाराजगी है। 

फतेहपुर में वोट के बाद उत्साहित मतदाता

 

यह भी पढ़ें: DN Exclusive फतेहपुर निकाय चुनाव: जनता का नेताओं पर तंज, हरि भरोसे हरिहरगंज 

फर्जी वोटिंग और हंगामा

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत, सहारनपुर, बुलंदशहर और मुरादाबाद के कुछ पोलिंग बूथों पर फर्जी वोटिंग समेत अलग-अलग कारणों से हंगामा होने की खबरें है। बागपत को बड़ोत क्षेत्र में एक युवक द्वारा फर्जी वोट डालने की कोशिश की, जिसके बाद यहां जमकर हंगामा हुआ। कुछ जगहों पर ईवीएम में खराबी के बाद वोटरों में भारी नाराजगी देखने को मिली और हंगामा होने लगा। ऐटा के जलेसर थाना क़स्बा क्षेत्र में सपा और भाजपा समर्थकों के झगड़ा हो गया। गंगोह (सहारनपुर) में फर्जी वोटिंग के आरोप में पुलिस ने दस लोगों को पकड़ा गया। बुलंदशहर के हरि एन्कलेव कालोनी में भी वोटर लिस्ट में नाम न होने पर मतदाताओं ने जमकर हंगामा किया।

 

 

यह भी पढ़ें: फतेहपुर के सथरियांव में तोड़फोड़: ग्रामीणों ने कहा- चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा ने ही विवाद को तूल दिया 

94 लाख मतदाता, 28135 प्रत्याशी

यूपी के 26 जिलें में 5 नगर निगम, 76 पालिका परिषद और 152 नगर पंचायतों के लिये राज्य में मतदान चल रहा है। नगर निकाय चुनाव के लिए पूरे राज्य में 3602 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। प्रदेश के तीसरे चरण के मतदान के जरिये में राज्य के 94 लाख मतदाता 28135 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगे। मतदान सुबह साढ़े सात बजे से शुरू हो गया है जो कि शाम पांच बजे तक होगा। 













संबंधित समाचार