BWF: भारत के रंकीरेड्डी-शेट्टी की जोड़ी ने जीता थाईलैंड ओपन, चीन की जोड़ी को किया पराजित

डीएन ब्यूरो

सत्विसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी BWF सुपर 500 बैडमिंटन टूर्नामेंट जीतने वाली पहली भारतीय जोड़ी बन गई है। उन्होंने यहां रविवार को थाईलैंड ओपन के चुनौतीपूर्ण फाइनल में चीन के लि जुन हुई और लियू यु चेन की जोड़ी को हराया है।

रंकीरेड्डी-शेट्टी की जोड़ी
रंकीरेड्डी-शेट्टी की जोड़ी

बैंकाक: सत्विसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी BWF सुपर 500 बैडमिंटन टूर्नामेंट जीतने वाली पहली भारतीय जोड़ी बन गई है। गैर वरीयता प्राप्त भारतीय जोड़ी ने एक घंटे दो मिनट तक चले मुकाबले में चीन ती तीसरी वरीय जोड़ी पर 21-19 18-21 21-18 से जीत हासिल की। 

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’: आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

पिछले साल राष्ट्रमंडल खेल में पुरूष युगल का रजत पदक जीतने वाले रंकीरेड्डी और शेट्टी के लिये यह 2019 सत्र का पहला फाइनल था। रंकीरेड्डी और शेट्टी ने अच्छी शुरूआत की, उन्होंने 3-3 की बराबरी के बाद 10-6 से बढ़त बना ली। पर चीन के प्रतिद्वंद्वियों ने वापसी करते हुए 14-14 से बराबरी हासिल की। 

यह भी पढ़ें: Global T20 League: बीच मैदान पर पाक खिलाड़ी को शाहिद अफरीदी ने कहा 'पागल', देखें VIDEO

इसके बाद दोनों जोड़ी कोशिश करती रहीं और दुनिया की 16वें नंबर की भारतीय जोड़ी 20-18 के स्कोर पर ही बढ़त बना सकी। चीनी खिलाड़ियों ने अंक जुटाकर इसे 19-20 कर दिया। रंकीरेड्डी और शेट्टी ने अहम प्वाइंट जुटाकर पहला गेम हासिल किया। दूसरे गेम में भारतीय जोड़ी 6-2 से आगे हो ली। जल्द ही चीनी जोड़ी ने इस अंतर को 5-6 कर दिया और फिर दोनों जोड़ियां 11-11 की बराबरी पर आ गई। 

यह भी पढ़ें: Sports: कफ सीरप पीकर डोपिंग में फंसा टीम इंडिया का युवा बल्‍लेबाज, देखें कितने माह के लिए हुई छुट्टी

चीनी जोड़ी ने फिर तेजी से 13-11 की बढ़त बनायी, भारतीय जोड़ी भी कहां हार मानने वाली थी, वह 13-13 का स्कोर बनाने के बाद 16-14 से आगे हो गयी। दोनों जोड़ियों ने फिर दो दो अंक जुटा लिये। पर चीनी खिलाड़ियों ने भारतीयों को हैरान करते हुए लगातार पांच अंक अपनी झोली में डालकर गेम अपने नाम किया।अब फैसला निर्णायक गेम से होना था। तीसरे गेम में रंकीरेड्डी और शेट्टी थोड़े धीमे दिखे लेकिन फिर भी दोनों जोड़ियां 6-6 से बराबर थीं। इसके बाद भारतीय जोड़ी ने संयम बरता और अंत तक अपने प्रतिद्वंद्वियों पर बढ़त कायम रखी। चीन की जोड़ी ने वापसी करने की कोशिश में अंतर 18-19 कर लिया लेकिन भारतीय जोड़ी इस मौके को गंवाने के मूड में बिलकुल नहीं थी, उन्होंने लगातार दो प्वाइंट जुटाकर मैच अपने पक्ष में कर लिया।  

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …