सावधान! दिवाली में Flipkart और Amazon से Online कॉस्मेटिक सामान मंगाने से पहले पढ़ें यह खबर..

डीएन ब्यूरो

दिवाली पर बाजारों में इस बार कुछ ज्यादा ही चौकाचौंध भरा माहौल है। इस दिवाली ऑनलाइन ई-वाणिज्य कंपनियां भी धनतेरस और दिवाली के लिये ग्राहकों के लिये एक से बढ़कर एक ऑफर दे रही हैं। अगर आप भी ऑनलाइन कर रहे हैं खरीदारी तो रहें जरा संभलकर। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें किसलिये ग्राहक रहें सतर्क

कॉस्मेटिक आइटम

नई दिल्लीः त्यौहारों का सीजन चल रहा है, शारदीय नवरात्रि और दशहरे के बाद अब धनतेरस, दिवाली और छठ की तैयारियों में लोग लगे पड़े हैं। पटाखों पर आये सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद तो दुकानदारों की मानों चांदी हो गयी हो। यहीं नहीं ग्राहकों के चेहरे पर भी मुस्कान दिख रही है। इस बार त्यौहारों को लेकर बाजारों में भी खासी रौनक दिख रही है। खासतौर पर मिठाइयों और कपड़े वाले दुकानदारों के पास तो खाने की भी फुरस्त नहीं है।     

यह भी पढ़ेंः यादगार शादीः जब होटल में पहुंचने के लिये जोड़े ने सड़क पर रुकवाई मैराथन,तब हुई शादी  

 

 

ऑनलाइन स्टॉक की पैकेजिंग (प्रतीकात्मक तस्वीर)

 

यहीं नहीं जिस तरह ग्राहक सोशल मीडिया व तकनीक से जुड़ गये है उसी तरह व्यापारी भी ग्राहकों को ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिये एक से बढ़कर एक कई नये-नये ऑफर दे रहे हैं। अखबारों में टिवी पर सोशल मीडिया में फेसबुक, व्हाट्सएप पर हर जगह विज्ञापनों की भरमार है। अब बात ऑनलाइन शॉपिंग की हो रही है तो भला एमेजन और फ्लिपकॉर्ट पीछे रह जाये ऐसा तो हो ही नहीं सकता।      

यह भी पढ़ेंः सिंगापुरः फेसबुक पर फटे झंडे की पोस्ट ले डूबा INDIAN की नौकरी..

 

 

सामान की अच्छी तरह करें जांज 

 

इन दिनों इन दोनों ऑनलाइन सामान प्रदाता कंपनियों में तो जैसे अपने-अपने सामान को बेचने की होड़ सी लगी हुई है। लेकिन ग्राहकों को एक बात जानकर हैरानी होगी कि इन दोनों ई-वाणिज्य कंपनियों एमेजन और फ्लिपकॉर्ट को देश के औषधि नियामक डीसीजीआई ने देश-विदेश के कई नामी सौंदर्य प्रसाधनों के नाम पर नकली और मिलावटी माल बेचने के आरोप में नोटिस जारी कर दोनों से 10 दिन के अंदर जवाब मांगा है।      

यह भी पढ़ेंः सच कड़वा है..दिल्ली में लड़कों को शादी के पड़े लाले, चौंकाने वाली वजह आई सामने 

 

 

सामान खरीदने की शर्तों को पढ़ ले ग्राहक

 

हालांकि अब तक जहां दिवाली पर खासतौर पर दुकानों में छापा मारकर नकली माल पकड़ा जाता है वहीं अब ऑनलाइन सामान बेचने वाली कंपनियों पर भी शिकंजा कस रहा है। अब इसमें फ्लिपकार्ट और एमेजन का नाम आने से ग्राहकों को जरूर बड़ा धक्का लगा है। डीसीजीआई ने कहा है कि अगर इसमें गड़बड़ी साबित हुई तो दोनों कंपनियों पर दंडात्मक कार्रवाई की जायेगी। बता दें कि औषधि निरीक्षकों ने 5-6 अक्टूबर को देश में कुछ प्रतिष्ठानों पर छापे मारे थे।     

यह भी पढ़ेंः दोस्तों के साथ खेला जुआ..दांव में पत्नी को ही हार गया, महिला से फिर हुआ ये सब

 

 

कॉस्मेटिक के लिये फ्लिपकार्ट और एमेजन को नोटिस

 

उसके बाद ही भारतीय औषधि नियंत्रक (डीसीजीआई) ने नोटिस दिये। छापे के दौरान बिना वैध विनिर्माण लाइसेंस के देश में विनिर्मित सौंदर्य प्रसाधनों के साथ पंजीकरण प्रमाणपत्र के बिना सौंदर्य प्रसाधन का आयातित कच्चा माल पकड़ा गया। यह उत्पाद ई-वाणिज्य कंपनियों की वेबसाइटों के माध्यम से बेचा जा रहा था। इस बारे में एमेजन इंडिया के प्रवक्ता का कहना है कि जब भी ऐसा मामला आता है कंपनी अवैध या नकली उत्पादों के विक्रेताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करती है। 

(दिवाली विशेष कॉलम में डाइनामाइट न्यूज़ आपके लिए ला रहा है हर दिन दिवाली की नयी खबरें.. दिवाली से जुड़ी खबरों के लिए इस लिंक को क्लिक करें:https://hindi.dynamitenews.com/tag/Diwali-Special )

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार