फतेहपुर: हैवान ने की दरिंदगी की सभी हदें पार, पांच साल की मासूम को बनाया हवस का शिकार

डीएन संवाददाता

कठोर कानून के बाद भी मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। फतेहपुर में एक वहशी युवक ने हैवानियत की सभी हदों को पार करते हुए एक मासूम को अपनी हवस का शिकार बना डाला। इस घटना से लोगों में भारी रोष है। पूरी खबर..

थाना गाजीपुर का मामला
थाना गाजीपुर का मामला

फतेहपुर: गाजीपुर थाने के सोनवर्षा गाँव में एक हैवान ने इंसानियत को शर्मशार करने वाली घटना को अंजाम दिया। यहां एक वहशी युवक ने 5 साल की एक मासूम बच्ची को अपनी हवश का शिकार बना डाला। दुष्कर्म के बाद जब लड़की की स्थित खराब हो गयी तो हैवान युवक मासूम को मरणासन्न हालत में छोड़कर फरार हो गया। लड़की कल से गायब थी, जो शुक्रवार की सुबह घर पहुंची। खून से लथपथ घर पहुंची ल़ड़की को देख घर वालों के भी होश उड़ गये।

आक्रोशित परिजनों और ग्रमीणों की शिकायत के बाद मासूम के साथ दुष्कर्म करने वाले हैवान को पुलिस ने उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है। पूरे क्षेत्र में घटना को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है।

यह भी पढ़ें: फतेहपुर शराब पीकर स्कूल पहुंचा हेडमास्टर, महिला शिक्षामित्र से अभद्रता, ग्रामीणों ने किया कमरे में बंद

जानकारी के मुताबिक आरोपी युवक बच्ची को सोनवर्षा  गाँव से क़रीब 5 किलोमीटर दूर लेकर गया और इसांनियत को शर्मसार करने वाली इस घटना को अंजाम दिया।खून से लथपथ लड़की किसी तरह वहां से अपने घर पहुंची। लड़की की हालत को देख हर किसी का दिल पसीज गया। परिजनों की सूचना के बाद पुलिस भारी फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंची।

मासूम लड़की के बताये गये हुलिये के आधार पर पुलिस ने आरोपी को उसके घर से ही गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने पुलिस के सामने अपना गुनाह कबूल कर लिया। इस घटना से लोगों में भारी रोष है। 

 यह भी पढ़ें: फतेहपुर पुलिस ने किया अवैध हथियार बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़, ठोकिया गिरोह से जुड़े तार

इस मामले में डाइनामाइट न्यूज़ से बात करते हुए सीओ जाफ़रगंज ने बताया कि बच्ची को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया गया है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

















आपकी राय

#DNPoll क्या उस भारत का निर्माण हो सका है, जिसका सपना हमारे वीर-शहीदों ने आजादी से पहले देखा था?