फतेहपुर: पुलिस ने किया अवैध हथियार बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़, ठोकिया गिरोह से जुड़े तार

डीएन संवाददाता

जनपद पुलिस ने एक ऐसी अवैध हथियार बनाने वाली फैक्ट्री का पर्दाफाश किया है, जहां से कुख्यात बदमाश ठोकिया गिरोह को हथियारों की सप्लाई की जाती थी। पुलिस ने गैंग को चार सदस्यों को भी गिरफ्तार कर लिया है। पूरी खबर..

डाइनामाइट न्यूज़ से बात करते एसपी राहुल राज

फतेहपुर: जनपद पुलिस ने थाना खखरेरू के चंदनमऊ गाँव में अवैध हथियार बनाने वाली एक फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। यह फैक्ट्री वर्ष 2002 से संचालित हो रही थी और यहां से कुख्यात ठोकिया गैंग के सदस्यों को अवैध हथियारों की सप्लाई की जाती थी। पुलिस ने इस मामले में चंदनमऊ गाँव के 4 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

 

मुख्य आरोपी पूरी तरह दिव्यांग

एसपी राहुल राज ने बताया कि चंदनमउ गाँव से अवैध हथियार बनाने की लगातार शिकायत आ रही थी। जिसके आधार पर चंदनमऊ गाँव के 4 अभियुक्तों को खखरेरू पुलिस ने गिरफ्तार किया। इस मामले का मुख्य आरोपी राकेश सोनकर है, जो पूरी तरह पैरों से दिव्यांग है। वह असलहे बनाने का काम  2002 से कर रहा है। एसपी ने बताया कि ये लोग ठोकिया गिरोह को भी अवैध असलहे सप्लाई करते थे। मुख्य आरोपी राकेश सोनकर के पिता जुगुल को भी पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है।

कई जिलों में होती थी सप्लाई

एसपी ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में रामबली केवट और दिनेश केवट को भी गिरफ्तार किया हैं। ये दोनो आरोपी असलहा खरीदने गए थे। खरीदे गये असलहों सहित इन दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक सीज की गयी फैक्ट्री में बनने वाले हथियारों की सप्लाई चित्रकूट, उन्नाव, बांदा, रायबरेली, हमीरपुर आदि जिलों में की जाती थी।

पुलिस टीम को पुरुस्कार देने की घोषणा

एसपी राहुल इस मामले का पर्दाफाश करने वाले खखरेरू थाने के प्रभारी सचिदानंद त्रिपाठी और उनकी टीम को 5000 रूपये पुरुस्कार देने की भी घोषणा की है। गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस की पूछताछ जारी है, जिनसे और कई राज फाश हो सकते हैं। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार