राम रहीम रेप केस में सीबीआई जज पढ़ रहे हैं फैसला

डीएन संवाददाता

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर साध्वी से बलात्कार के मामले में आज फैसला सुनाया जाएगा। बाबा राम रहीम बड़े काफिले के साथ पंचकूला स्थित कोर्ट पहुंच चुके हैं, जहां मामले की सुनवाई के बाद अब कोर्ट के जज फैसला पढ़ रहे हैं।

गुरमीत राम रहीम
गुरमीत राम रहीम

चंडीगढ़: डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर साध्वी से बलात्कार के मामले में थोड़ी देर बाद फैसला आने वाला है। बाबा राम रहीम पंचकूला कोर्ट रूम में सुनवाई के बाद सीबीआई जज अब फैसला पढ़ रहे हैं। कोर्ट के फैसले को लेकर पंचकूला में बाबा के सैकड़ों समर्थकों का जमावड़ा लगा हुआ है। किसी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिये यहां सुबह से सेना की तैनाती कर दी गयी है। सेना को हर समय तैयार रहने और किसी भी तरह की अप्रिय स्थिति से निपटने के आदेश दिये गये है। इसके जगह जगह पर अलावा हरियाणा और पंजाब पुलिस तैनात, जिसे केन्द्रीय सुरक्षा बलों द्वारा भी कवर दिया जा रहा है। डीजीपी का कहना है कि हालात को देखते हुए किसी तरह की अप्रिय स्थिति पैदा करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। हाईकोर्ट भी इस मामले पर नजर बनाये हुये है और कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये अदालत ने कई आदेश जारी किये हैं।

यह भी पढ़ें: हिंसा में मारे गये सभी लोग डेरा समर्थक: हरियाणा मुख्य सचिव

ताजा हालात

* राम रहीम पर यौन शोषण का मामला: पंचकूला कोर्ट में जज ने फैसला पढ़ना शुरू किया

* पंचकुला के रिहाईशी इलाकों की बिजली काटी गई

* कोर्ट रूम में केवल 7 लोग मौजूद

* कोर्ट रूम में हाथ जोड़े खड़े हैं राम रहीम

* कोर्ट में मामले की सुनवाई शुरू

* कोर्ट रूम पहुंचे बाबा राम रहीम

* पंचकुला पहुंचे बाबा राम रहीम

* कोर्ट का 500 मीटर का इलाका सील

* हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने की सबसे शांति बनाये रखने की अपील

* कोर्ट ने कहा- पंचकुला न पहुंचे कोई नेता, दखल देने पर FIR दर्ज करने के आदेश

* कोर्ट परिसर पहुंचने वाले हैं बाबा राम रहीम

* उपद्रव की आशंका, समर्थकों को समझाने में जुटे सुरक्षा बल

* पंचकुला में भारी संख्‍या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है।

* पंचकुला में हेलीकॉप्‍टर की मदद से निगरानी की जा रही है।

* हाई कोर्ट ने कहा कि जरूरत पड़ने पर सुरक्षा बल हथियारों का इस्तेमाल करने से न झिझकें।

* हरियाणा के आईजी के.के. राव के मुताबिक पंचकूला में हेलिकॉप्टर के साथ-साथ ड्रोन की मदद से भी निगरानी रखी जा रही है।

* अदालत के परिसर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

* पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने जीरकपुर का दौरा कर कानून व्यवस्था की स्थिति का जायजा लिया।

राम रहीम का काफिला सिरसा से आगे निकलते वक्त कई समर्थकों की हालत बिगड़ी।

* सुरक्षा बलों और प्रशासन की चेतावनी के बाद राम रहीम के अनुयायी पंचकूला से हिलने को तैयार नहीं।  

यह भी पढ़ें: डेरा सच्चा प्रमुख राम रहीम के विवाद की पूरी कहानी और आरोप..

 आज सुबह जैसे ही बाबा राम रहीम कोर्ट में पेशी के लिए निकले वैसे ही उनके समर्थक उनके काफिल के सामने सड़क पर लेट गए।  इस दौरान किसी भी अप्रिय घटना से बचने और उसे रोकने के लिए सरकार ने पंचकूला समेत पूरे हरियाणा में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। हरियाणा के सिरसा में गुरुवार रात से हालात बिगड़ने की स्थिति को देखते हुए कर्फ्यू लगा दिया गया है। खबर है कि बाबा राम रहीम सिरसा से पंचकूला तक सड़क के रास्ते जाएंगे। बता दें कि सिरसा से पंचकूला की दूरी 250 किलोमीटर है। 

यह भी पढ़ें: राजनीतिक फायदे के लिये हुई हिंसा: हाईकोर्ट

खबरों के मुताबिक सीबीआई अदालत में न्यायाधीश जगदीप सिंह फैसला सुनाएंगे। अदालत परिसर में भी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था गई है। कोर्ट में पेशी के लिए जाने से पहले राम रहीम ने एक वीडियो जारी किया। वीडियो में उन्होंने अपने भक्तों की भारी भीड़ को देखते हुए राम रहीम ने अपने समर्थकों ने शांति की अपील की है। उन्होंने सभी समर्थकों के वापस लौट जाने की बात कही है।

यह भी पढ़ें: राम रहीम के सिरसा मुख्‍यालय में घुसी सेना, 36 आश्रम सील

दोषी होने पर बाबा रम रहीम को 10 साल की जेल हो सकती

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ धारा 376 और 506 के तहत आरोप तय हुए थे। जिसमें अब फैसला आना है। इन आरोपों में यदि डेरा प्रमुख दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें कम से कम 7 और अधिकतम 10 साल कैद हो सकती है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)