देवरिया: देखें स्थानांतरण के बाद विदाई समारोह में क्या बोले NHRDF उपनिदेशक डॉ रजनीश मिश्रा

डीएन संवाददाता

कृषि विज्ञान केंद्र मल्हना में 8 वर्षों से कार्यरत उप निदेशक डॉ रजनीश मिश्रा के उड़ीसा स्थानांतरण पर विदाई समारोह का आयोजन किया गया। डाइनामाइट न्यूज की स्पेशल रिपोर्ट में जानिये विदाई समारोह में क्या बोले डॉ रजनीश मिश्रा..


देवरिया: राष्ट्रीय बागवानी अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान( NHRDF) उसरा बाजार देवरिया के उप निदेशक डॉ. रजनीश मिश्रा का स्थानांतरण उड़ीसा कर दिया गया है। जिसके बाद में रुद्रपुर नगर पंचायत स्थित जीआर टावर में विदाई समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में अतिथि के रूप में डॉ यशवंत सिंह, प्रधानाचार्य रामदयाल सिंह, रामभगत शर्मा व रजनीश श्रीवास्तव प्रभारी कृषि विज्ञान केंद्र मलहना देवरिया व अन्य गणमान्य लोग  और कृषि विशेषज्ञ  मौजूद थे। इस मौके पर लोगों ने उनके द्वारा किये गये कार्यों की प्रशंसा की। विदाई समारोह कार्यक्रम का संचालन सुरेंद्र देव मिश्रा अब्बू  के द्वारा किया गया।

यह भी पढ़ें: देवरिया के लाल वैभव रॉय बोले- गुमनाम प्रतिभाओं को नई पहचान दिलाने का करूंगा प्रयास 

विदाई समारोह के दौरान बधाई देते हुए

एनएचआरडीएफ उसरा के उप निदेशक डॉ रजनीश मिश्रा ने विदाई कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि नौकरी के दौरान स्थानानान्तरणं होना एक रूटीन है। उन्होंने कहा सरकार ने मेरी अधिक जरूरत उड़ीसा के उन दुर्गम क्षेत्र के किसानों के विकास व उनके जीवन स्तर को ऊंचा उठाने मे खेती को बेहतर माध्यम बनाने के लिए समझा इसलिए मेरा स्थानांतरण वहां कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: देवरिया: किसानों के बीच मनाई गयी डाइनामाइट न्यूज की तीसरी वर्षगांठ, कृषकों को मिला मुफ्त बीज किट

उन्होंने आगे कहा कि मेरे रहते हुए मैनें यहां के किसानों को लहसुन, प्याज की खेती को वर्ष में दो बार पैदा कराने में को उन्मुख करने में सफलता मिली। यदि अगर पूर्वांचल के किसान बड़े पैमाने पर प्याज की खेती से जुड़ेंगे तो बगल के नेपाल में नासिक से रोज 5 से 7 ट्रक प्याज जाता है। पूर्वांचल का किसान प्याज पैदा कर नेपाल भेजने में सफल हो जाता तो कम  से कम नासिक वाले प्याज से 5 रुपये प्रति किलो कम कीमत पड़ेगी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …