DUSU Election Results 2019: डूसू पर लहराया ABVP का परचम, अध्यक्ष समेत जीती तीन सीटें

डीएन ब्यूरो

दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट यूनियन (DUSU 2019) के रिजल्ट आ चुके हैं। इस साल DUSU में प्रेसिडेंट पद के लिए एबीवीपी की तरफ से अक्षित दहिया जीते हैं। जानें कैसा रहे DU के नतीजे डाइनामाइट न्यूज़ पर..

DUSU के विजेता
DUSU के विजेता

नई दिल्ली: राजधानी और देश की राजनीति में खास महत्व रखने वाले दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) के 2019-20 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समर्थित अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने एक बार फिर अपना परचम लहराते हुए अध्यक्ष समेत तीन पदों पर जीत हासिल की। कांग्रेस समर्थित भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ (एनएसयूआई) की झोली में सचिव पद गया है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में Odd-Even पर बोलें नीतीन गडकरी- नहीं थी इसकी जरूरत

 

डूसू छात्र संघ के चार पदों के लिए शुक्रवार को मतगणना हुई। एबीवीपी के अक्षित दहिया ने एनएसयूआई की चेतना त्यागी को 19 हजार 39 वोटों के बड़े अंतर से हराकर अध्यक्ष पद जीता। दहिया को 29685 और सुश्री त्यागी को 10646 वोट मिले। वाम समर्थित आईसा की दामिनी कैन को 5886 मत मिले। उपाध्यक्ष पद पर एबीवीपी के प्रदीप तंवर ने अंकित भारती को 8574 वोटों से शिकस्त दी। तंवर को 19858 और भारती को 11284 वोट मिले। वाम समर्थित आईसा के आफताब आलम 8270 मत हासिल कर तीसरे स्थान पर रहे।

यह भी पढ़ें: वायु प्रदूषण से निपटने के लिए दिल्ली में फिर से शुरू होगी Odd-Even Scheme, जानें कब से होगा लागू

वोट देती छात्राएं

सचिव पद पर एनएसयूआई के आशीष लांबा ने एबीवीपी के योगित राठी को 1053 वोटों से हराया। लांबा को 20934 और राठी को 18881 मत मिले। आईसा के विकास को 6804 वोट हासिल हुए। सह सचिव पद पर परिषद की शिवांगी खेरवाल ने एनएसयूआई के अभिषेक चपराना को 2914 मतों से शिकस्त दी। खेरवाल को 17234 और चपराना को 14320 मत मिले। इस बार छात्र मतदाताओं ने नोटा पर भी जमकर बटन दबाया। अध्यक्ष पद पर 5495 छात्र मतदाताओं ने किसी को वोट नहीं देते हुए नोटा के पक्ष में बटन दबाया। सचिव पद पर नोटा दबाने वाले 6507 और सह सचिव पर 7695 मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार