OMG: BODY बनाने के लिये घोड़े वाला इंजेक्शन लेने से युवक ही हुई ये हालत..

डीएन ब्यूरो

बॉडी बनाने का शौक तो ठीक है लेकिन शार्ट तरीके से जल्दी बॉडी बनाने के चक्कर में कहीं आप भी अगर अपने जिम ट्रेनर की सलाह पर घोड़े वाला इंजेक्शन ले रहे हैं तो अब ऐसे युवाओं को सावधान होने की जरूरत हैं। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें, खुलासा, घोड़े वाला इंजेक्शन लेने से किस तरह बॉडी बिल्डर की जिंदगी से हुआ खिलवाड़

बॉडी बनाने का शौक ले रहा जान (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्लीः युवाओं में बॉडी बनाने का शौक इस तरह सिर चढ़कर बोल रहा है कि वो इसके लिये कुछ भी करने को तैयार है। बस उन्हें चाहिये कि किसी भी तरह उनके भी फिल्मों में दिखने वाले हीरो की तरह सिक्स पैक एब्स और डोले-शोले बन जाये जिससे लड़िकयां उनसे भी इम्प्रेस हो जाये। लेकिन बॉडी बनाने की ये सनक तब भारी पड़ जाती है जब इसके लिये गलत चीजों का इस्तेमाल कर यह जान पर बन आती है।      

यह भी पढ़ेंः अद्भुतःभोपाल सेंट्रल जेल में जब RJ बन कैदी गुनगुनाते हैं गीत,ऐसा होता है समां..

 

बॉडी बनाने के लिये युवा ले रहे घोड़े वाला इंजेक्शन 

 

ऐसा ही हुआ पश्चिमी दिल्ली के नजफगढ़ में रहने वाले एक युवक के साथ। युवक के पिता पुलिस अधिकारी है, अपने बेटे के बॉडी बिल्डिंग के शौक को देखते हुए उन्होंने उसे जिम ज्वाइन करवाया तो यहां उसके जिम ट्रेनर युवक को सुडौल बॉडी बनाने के लिये एक ऐसी सलाह दी जो उसकी जान पर अब भारी पड़ रही है। बॉडी बिल्डिंग में जब वह एक के बाद एक कई पदक जीतने लगा तो उसने अपने जिम ट्रेनर की सलाह पर अपनी शारीरिक शक्ति को बढ़ाने और थकान को दूर करने के लिये घोड़ों की थकान दूर करने व फुर्ती बढ़ाने के लिये इस्तेमाल किये जाने वाले इंजेक्शन लेने लगा।       

यह भी पढ़ेंः खुलासाः पढ़ाई नहीं,हथियारों की तस्करी के लिये पेन..पेंसिल जैसे कोड वर्ड का इस्तेमाल.. 

 

 

बॉडी बिल्डरों की तरह दिखनी की चाहत पड़ रही भारी

 

शुरू में तो उसे बड़ा अच्छा लग रहा था लेकिन कुछ समय बाद उसे बड़ी बेचैनी महसूस होने लगी। जब उसकी ऐसी हालत को देख परिजनों ने उसे गंगाराम अस्पताल में मनोचिकित्सक के पास ले गये तो पता चला कि वह पिछले 2 सालों से घोड़े वाले इंजेक्शन को इस्तेमाल करने से उसकी मांसपेशियों में खराबी आ गई है इसलिये वह बेचैनी महसूस करता है। 

अब जब बॉडी बिल्डिंग का शौक छोड़कर पढ़ाई में ध्यान लगाता है तो तब बिना इंजेक्शन लिये उसे चैन नहीं आता और उसके शरीर में एक अजीब सी बेचैनी होने लगती है। इस वजह से न तो उसे सही से नींद आती है और न ही वह  सबसे ढंग से बातचीत करता है।      

यह भी पढ़ेंः चेन्नईः जेबकतरों की दरियादिली, पर्स लूटने के बाद दस्तावेजों को डाल रहे पोस्ट बॉक्स में

 

 

जिम ट्रेनर दे रहे हैं खतरनाक सलाह

 

घोड़ों को किसलिये लगाया जाता है यह इंजेक्शन 

मनोचिकिस्तक का कहना है कि घुड़सवारी से पहले घोड़ों को यह इंजेक्शन लगाया जाता है। इससे नसें फूल जाती हैं और रक्त संचार बढ़ जाता है जिससे घोड़ा जल्दी थके नहीं और तेज दौड़े। लेकिन इस इजेक्शन के आदि युवक के लिये अब यह घातक सिद्ध हो रहा है। उसने इसकी ज्यादा डोज ली है वह भी बिना किसी डॉक्टरी सलाह के।   

 

 

लापरवाही पड़ रही जान पर भारी 

 

यह भी पढ़ेंः नवरात्रि पर जब मां झंडेवालान मंदिर से ज्योत लेकर जा रही महिला काल के मुंह में समाई

क्या कहते हैं डॉक्टर

डॉक्टर का कहना है कि यह इंजेक्शन मनुष्य के लिये घातक है अगर कोई इसे लेता है तो इससे उसकी किडनी, लिवर व शरीर के विभिन्न महत्वपूर्ण अंग खराब होने की संभावना बनी रहती है। इसलिये जल्दी-जल्दी बॉडी बनाने के शौक और जिम ट्रेनर द्वारा ऐसी सलाह देकर गलत मार्गदर्शन बॉडी बिल्डिंग के क्षेत्र में आने वाले युवाओं के लिये घातक साबित हो सकता है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार