खुलासाः पढ़ाई नहीं,हथियारों की तस्करी के लिये पेन..पेंसिल जैसे कोड वर्ड का इस्तेमाल..

डीएन ब्यूरो

हथियारों की तस्करी करने वाले एक ऐसे शातिर को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है, जो तस्करी के लिये अनोखा तरीका अपनाता था। आरोपी से पुलिस ने अवैध हथियारों की एक खेप भी बरामद की है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें तस्कर से क्या हुआ खुलासा

हथियारों की तस्करी (प्रतीकात्मक तस्वीर)
हथियारों की तस्करी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्लीः दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की इंटर स्टेट सेल ने हथियारों की तस्करी करने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह के एक ऐसे तस्कर को गिरफ्तार किया है जो अनोखे तरीके से हथियारों की तस्करी करता था। दिल्ली में बढ़ रही वारदात में इस्तेमाल किये जा रहे हथियारों को देखते हुये दिल्ली पुलिस को पड़ोसी राज्यों से दिल्ली में हथियारों की तस्करी की सूचनायें आ रही थी।      

यह भी पढ़ेंः होश उड़ाने वाला VIDEO: पटरी पर लेटे युवक के ऊपर से गुजरी ट्रेन, उसके बाद हुआ कुछ ऐसा.. 

 

 

अवैध हथियारों की खेप (प्रतीकात्मक तस्वीर)

 

पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर कार्रवाई करते हुये प्रगति मैदान से इन हथियारों की तस्करी करने वाले तस्कर मोहब्ब अली को 14 अक्टूबर को गिरफ्तार किया है। आरोपी से पुलिस ने दस अवैध पिस्तौल और 15 कारतूस बरामद किये हैं। 

हैरानी की बात यह है कि गिरफ्तार हथियार तस्कर मोहब्बत अली ज्यादा पढ़ा-लिखा नहीं है। लेकिन जिस तरह से वह हथियारों की सप्लाई के लिये कोर्ड वर्ड यूज करता था वह पुलिस के भी समझ के परे था। अली के खिलाफ आर्म्स एक्ट और गैंगस्टर एक्ट के तहत उत्तर प्रदेश के मुजफ्फनगर में 5 मामले पहले से ही दर्ज हैं।   

यह भी पढ़ेंः VIDEO: देखिये, कैसे हुआ अमृतसर रेल हादसा, पल भर में भारी भीड़ को कुचलकर गुजर गई ट्रेन  

 

पुलिस गिरफ्त में आरोपी (सांकेतिक तस्वीर)

 

हथियारों की तस्करी के लिये इन कोड वर्ड का इस्तेमाल करता था आरोपी

1. आरोपी से पूछताछ में पुलिस यह सुनकर दंग रह गई कि वह हथियारों की तस्करी के लिये कोड वर्ड इस्तेमाल करता था। कोड वर्ड भी ऐसा कि अगर गलती से कोई इसे सुन भी ले तो उसे लगेगा कि पढ़ाई-लिखाई की बातें हो रही है।

2.अगर किसी को  9 मिमी की पिस्तौल की जरूरत होती थी तो आरोपी मोबाइल पर बात करते समय इसे बड़ा पेन कहकर संबोधित करता था।    

यह भी पढ़ेंः अमृतसर ट्रेन हादसाः गमगीन माहौल में भी आक्रोश, नम आंखों को अब भी अपनों की तलाश

  

 

अवैध पिस्तौल (सांकेतिक तस्वीर)

 

3.7.65 मीमी की पिस्तौल को छोटा पेन और कारतूस को सिक्का कहकर वह बड़ी आसानी से मोबाइल पर इन हथियारों की डील करता था।

4. रिवाल्वर के लिये वह मोबाइल पर बातचीत में पेंसिल कहकर इसके बारे में बताता था। इस तरह वह ग्राहकों को उनकी बताई हुई जगह पर हथियारों की सप्लाई करता था।     

यह भी पढ़ेंः एक माह में कहीं आपकी भी रकम तो नहीं हो गई दोगुनी.. अगर हां तो अब लगेगा ये झटका

 

पुलिस कब्जे में अवैध हथियार (फाइल फोटो)

 

5. मोहब्बत अली उत्तर प्रदेश का वांछित आरोपी है, यह अपने गिरोह के अन्य सदस्यों के साथ दिल्ली-एनसीआर में 10 से 15 हजार में हथियारों को बेचते थे।

आरोपी से पूछताछ में हुये खुलासे के बाद दिल्ली पुलिस आरोपी से अन्य मामलों में पूछताछ कर रही है। पुलिस को यह भी शक है कि आरोपी के दिल्ली में वांछित बदमाशों के साथ भी संबंध है। इसको लेकर भी उससे गहनता से पूछताछ की जा रही है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …