महराजगंज को उजाड़ने का काम तेजी से जारी, हाईवे निर्माण के नाम पर काटे जा रहे हैं पेड़

डीएन ब्यूरो

बिना बाई पास बनाये नगर के बीचो-बीच से हाइवे निर्माण का काम तेजी से जारी है। लंबे समय से आंदोलनरत लोगों की मांगो को दरकिनार कर अब यह साफ कर दिया गया है सड़क के दोनों तरफ महज ढ़ाई-ढ़ाई मीटर कम कर पूर्व में तय मानक के हिसाब से ही हाइवे का निर्माण होगा। तेजी से मशीन से खुदाई और पेड़ों की कटाई का काम जारी है। कुल मिलाकर अब तक हुए आंदोलन से कोई ठोस राहत नगरवासियों को नहीं मिल पायी है। यह कस्बे वासियों के लिए बड़ा झटका है। डाइनामाइट न्यूज़ विशेष..


महराजगंज: कस्बे में नेशनल हाइवे का निर्माण की गति तेज हो गई है। भविष्य को लेकर चिंतित व्यापारियों और आम जनता को आंदोलन से कोई बड़ी राहत नही मिली है, जनप्रतिनिधियों ने दोनों तरफ ढ़ाई-ढ़ाई मीटर कम तोड़े जाने का लालीपाप देकर ठंडा कर दिया है। कोई इस बात का जवाब देने को तैयार नहीं कि क्यों साल-दो साल के लिए नगर के बीचों-बीच से हाइवे निकालकर अरबों रुपये की बर्बादी की जा रही है?

यह भी पढ़ें: महराजगंज: नेशनल हाइवे Vs बाई-पास, कुछ सुलगते सवाल..

 

?

 

इस समय नगर के लोग जिस परिस्थितियों से गुजर रहे हैं, उनकी स्थिति को कोई समझने वाला नहीं है। 

यह भी पढ़ें: महराजगंज: हाईवे निर्माण में मदमस्त इंजीनियर और ठेकेदार, बीच सड़क पेड़ गिरने से लगा रहा जाम

 

 

इस बीच नगर में नेशनल हाइवे के निर्माण को लेकर और तेजी आ गयी है। भारी पैमाने पर पेड़ों की कटाई की जा रही है और मशीनों से खुदाई चल रही है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार