छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावः BSP- जोगी और CPI महागठबंधन को गहरा झटका

डीएन ब्यूरो

छत्तीसगढ़ में मतदान से ठीक पहले बसपा-जोगी-सीपीआई महागठबंधन को बड़ा झटका लगा है। नामांकन प्रक्रिया पूरी होने से पहले महागठबंधन को दूसरी बार खटाई लगी है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें आखिर महागठबंधन में पलभर में क्या हुआ कि जिससे उठानी पड़ेगी अब ये परेशानी

अजीत जोगी और मायावती को लगा झटका
अजीत जोगी और मायावती को लगा झटका

रायपुरः छत्तीसगढ़ में मतदान से ठीक पहले बसपा- जोगी- सीपीआई महागठबंधन को बड़ा झटका लगा है।  सरायपाली सीट से बसपा प्रत्याशी छबिलाल रात्रे ने रविवार को तब महागठबंधन की उम्मीदों पर पानी फेर दिया जब रात्रे ने झलप में एक सभा के दौरान कांग्रेस का हाथ थाम लिया। यह तब हुआ जब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल की मौजूदगी में रात्रे ने कांग्रेस का दामन थामा। महागठबंधन के लिये अब चुनौतियां कम होने का नाम नहीं ले रही है। क्योंकि नामांकन प्रक्रिया पूरी होने से पहले महागठबंध को यह दूसरा बड़ा झटका लगा है।     

यह भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ चुनाव में नक्सलियों का अड़ंगा.. वोटिंग से पहले सीरियल ब्लास्ट, सुरक्षा बलों पर हमला

 

BSP प्रत्याशियों ने दिया झटका

 

 यह भी पढ़ेंः भाजपा नेता के इस दावे पर क्या आप कर पायेंगे विश्वास?

इससे दो दिन पहले डोंगरगांव से बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी अशोक वर्मा ने भाजपा में प्रवेश कर लिया था। यह तब हुआ जब वर्मा भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में प्रचार कर रहे थे। डोंगरगांव विधानसभा सीट पर 12 नवंबर को मतदान होगा। वहीं अब दूसरे चरण के नामांकन से पहले महागठबंधन को गहरा धक्का लगा है। इन दोनों सीटों पर बसपा की ओर से अब कोई भी कद्दावर प्रत्याशी चुनाव नहीं लड़ रहा है। इससे अब कांग्रेस और बीजेपी को महागठबंधन से थोड़ी राहत तो जरूर दिख रही है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …