गोरखपुर: दलित, गरीब व फकीर बताने वाले जाने के रास्‍ते पर, जय भीम आने वाले हैं: मायावती

डीएन ब्यूरो

लोकसभा चुनाव का छठा चररण पूरा हो गया है। चुनाव का रण अब सातवें चरण में पहुंच गया उसी के साथ आखिरी दौर के लिए नेता भी धुंआधार रैलियां कर रहे हैं। आज गोरखपुर में महागठबंधन की संयुक्त रैली हुई, बसपा प्रमुख मायावती और सपा प्रमुख अखिलेश ने अपने भाषण में बीजेपी की सरकार पर जमकर निशाना साधा।

गोरखपुर में जनसभा को संबोधित करती बसपा सुप्रीमो मायावती
गोरखपुर में जनसभा को संबोधित करती बसपा सुप्रीमो मायावती

गोरखपुर: चुनाव का रण अब सातवें चरण में पहुंच गया उसी के साथ आखिरी दौर के लिए नेता भी धुंआधार रैलियां कर रहे हैं। सातवें चरण में भाजपा के सामने किला बचाने की चुनौती है तो गठबंधन के पास इस सीट को अपनी झोली में करने की चाहत साफ दिख रही है। आज गोरखपुर में महागठबंधन की संयुक्त रैली हुई, बसपा प्रमुख मायावती और सपा प्रमुख अखिलेश याादव ने अपने भाषण में बीजेपी की सरकार पर जमकर निशाना साधा।

यह भी पढ़ें: कुशीनगर में अखिलेश यादव के निशाने पर रहे पीएम नरेंद्र मोदी व सीएम योगी आदित्यनाथ, बोले- खराब निकली चाय, नशा भी उतर गया

इस दौरान मायावती ने कहा कि 23 मई को नमो वाले जाने वाले हैं और जय भीम वाले आने वाले हैं। कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण आज उसका यह हाल है ऐसा ही इस चुनाव में भाजपा के साथ होने जा रहा है। मुख्‍यमंत्री उत्‍तर प्रदेश योगी आदित्‍य नाथ पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि 23 मई के बाद योगी जी मठ जाने की तैयारी करेंगे क्‍योंकि भाजपा सरकार को जनता उखाड़ फेंकने वाली है।

मायावती की जनसभा में पहुंचे लोग

यह भी पढ़ें: गोरखपुर में अखिलेश यादव का सीएम योगी आदित्‍यनाथ पर तंज, 'अगर संविधान ना होता तो बाबा जी मठ में घंटा बजा रहे होते'

उन्‍होंने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि विपक्षी दल उन्‍हें गाली देते हैं, मैं उन्‍हें बताना चाहती हूं कि गाली उसी को मिलती है जो वैसा काम करता है। इस चुनाव में बीजेपी की नाटकबाजी और जुमलेबाजी काम नहीं आएगी। चुनाव में सभी चौकीदार मिलकर कितनी भी ताकत लगा लें, उन्‍हें हार मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो चुनावी वादे किए थे, उसका एक चौथाई भी पूरा नहीं कर पाए हैं। गठबंधन से बीजेपी की नींद उड़ी है। इस चुनाव में बीजेपी नेता घबराए हुए हैं।

यह भी पढ़ें: छठे चरण में पूर्वी उप्र की 14 सीटों पर अखिलेश, मेनका, रीता समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दाव पर

मायावती ने कहा, हमने पीएम मोदी से उनकी जाति नहीं पूछी है। हमने जनता को बताया है कि गुजरात में पीएम कागजी अति पिछड़े हैं। पीएम मोदी नकली पिछड़े हैं जबकि अखिलेश यादव असली ओबीसी हैं।' उन्‍होंने कहा क‍ि केंद्र में कुर्सी जाते देख पीएम मोदी इस तरह से हथकंडे कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बाराबंकी में 'योगी' के साथ मंच से बोले अखिलेश यादव.. चौकीदार और ठोकीदार दोनों को हटाना जरूरी

साथ ही कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि गरीबों को छह हजार देने के कांग्रेस वादे से कोई स्‍थाई फायदा नहीं होगा। हमारी सरकार अगर केंद्र में बनती है तो स्‍थायी नौकरी देगी। कांग्रेस पार्टी के पास ज्‍यादातर समय सत्‍ता हाथ में रही है। केंद्र और राज्‍यों में कांग्रेस की सरकारों के बाद भी उनकी गलत नीतियों के कारण सत्‍ता से बाहर होना पड़ा है।

यह भी पढ़ें: अयोध्‍या में मोदी ने मायावती पर कसा तंज.. बोले- बाबा साहेब के नाम पर उनके आदर्शों के विपरीत किए काम

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण के लिए मतदान 19 मई को होगा। इस चरण में वाराणसी, गोरखपुर समेत कई वीवीआईपी सीटों पर चुनाव होना है। वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मैदान में है तो वहीं गोरखपुर से मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के गढ़ से भोजपुरी स्‍टार रवि किशन चुनावी मैदान में हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …