बाराबंकी में 'योगी' के साथ मंच से बोले अखिलेश यादव.. चौकीदार और ठोकीदार दोनों को हटाना जरूरी

डीएन ब्यूरो

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पूरे उत्‍तर प्रदेश में अपने लोकसभा उम्‍मीदवारों के लिए लगातार रैलियां कर रहे हैं। आज बाराबंकी की रैली में कुछ अलग ही नजारा दिखा जिसे देखकर जनसभा में शामिल लोगों को भी लगा क्‍या ऐसा भी हो सकता है। इस दौरान उन्‍होंने कहा इस चुनाव में चौकीदार और ठोकीदार दोनों को हटाना है।

बाराबंकी में सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ मंच पर 'योगी'
बाराबंकी में सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ मंच पर 'योगी'

बाराबंकी: समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में रैली को संबोधित किया। इस दौरान उनके साथ चुनावी मंच पर सीएम योगी आदित्यनाथ जैसा दिखने वाले साधु भी मौजूद रहे। जनसभा में भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि इस बार 'चौकीदार' और 'ठोकीदार' दोनों को हटाना है।

रैली को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि बाराबंकी समाजवादियों का गढ़ रहा है। लोग बस यही सोच रहे हैं कि कब वोट डालने का मौका मिलेगा, कब बीजेपी को हराने का मौका मिलेगा।

यह भी पढ़ें: बदजुबानी में रिकॉर्ड तोड़ रहे नेता, भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने मायावती को कहा 'यूपी की गुंडी'

उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि किसानों की बोरी से खाद चोरी हो रही है, महिलाओं से गैस की सब्सिडी चोरी हो रही है, नौजवानों की नौकरी चोरी हो गई। जबकि दो करोड़ का वादा करके आने वाले अब चौकीदार बन गए हैं।

साथ ही उन्‍होंने यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ पर तंज कसते हुए कहा कि ठोको नीति से कानून व्‍यवस्‍था ठीक कर रहे थे लेकिन किसे किसको ठोंकना है इसमें गड़बड़ हो गई। ज्ञात हो कि बीते दिनों भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी के एक विधायक को जूता से पीट दिया था। 

भगवान नहीं ला सकते तो बाबा जी को लाए हैं

अखिलेश यादव ने शनिवार को भी ट्वीट करते हुए कहा, हम नकली भगवान नहीं ला सकते पर एक बाबा जी लाए हैं। यह हमारे साथ गोरखपुर छोड़ प्रदेश में सबको सरकार की सच्चाई बता रहे हैं। गौरतलब है कि इससे पहले भी योगी के हमशक्ल को अखिलेश यादव के मंच पर देखा गया है।

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट से माफी मांगी, मोदी जी से नहीं.. लुढ़कती भाजपा की हार तय: राहुल गांधी

अब तो 'योगी' जी का भी समर्थन मिल गया

मंच से अखिलेश यादव ने चुटकी लेते हुए रैली में मौजूद लोगों से कहा कि अब तो इनका भी समर्थन मिल गया अब भी कुछ चाहिए आपको। अखिलेश ने कहा कि यह जा रहे थे गोरखपुर लेकिन हम इन्हें बाराबंकी ले आए।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …