कुशीनगर में अखिलेश यादव के निशाने पर रहे पीएम नरेंद्र मोदी व सीएम योगी आदित्यनाथ, बोले- खराब निकली चाय, नशा भी उतर गया

डीएन ब्यूरो

कुशीनगर और महराजगंज में सपा प्रमुख ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि पहले चायवाला बन कर आए थे इस बार चौकीदार बन कर आए हैं... अब आप इनकी सच्चाई जान गए हैं... तो बताओ चौकिदार की चौकी छीनोगे कि नहीं ...। पढ़ें कुशीनगर और महराजगंज से डाइनामाइट न्‍यूज की एक्‍सक्‍लूसिव कवरेज।


कुशीनगर/महराजगंज: महात्‍मा बुद्ध की परिनिर्वाण स्‍थली कुशीनगर और महराजगंज में आज समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने चुनावी जनसभा को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ पर जमकर चुनावी हमले किए। 

कुशीनगर में जनसभा में पहुंचे लोगों कााअभिवादन करते हुए अखिलेश यादव। 

कुशीनगर की जनसभा में उनके संबोधन को सुनने के लिए जन सैलाब उमड़ पड़ा था। पंडाल से बाहर जहां तक एक व्‍यक्ति की नजर जा सकती हो वहां तक लोगों का हुजूम लाल टोपी में दिख रहा  था। यह हैं उनकी मुख्‍य बातें।

यह भी पढ़ें: बाराबंकी में 'योगी' के साथ मंच से बोले अखिलेश यादव.. चौकीदार और ठोकीदार दोनों को हटाना जरूरी

  1. इस दौरान उन्‍होंने कहा अभी तक पांच चरण के वोट पड़े हैं अभी छठा चरण बाकी है, छठे में हम भी वोट दे रहे हैं। 7वें चरण वाले लोगों को जल्दी है वोट देने की कि वह जल्‍दी से जल्‍दी साइकिल और हाथी बटन दबा दें। पांच साल चले गए पता ही नहीं चला और बाबा जी के शासन का 2 साल। आपको पांच साल का हिसाब नहीं लेना है.. आपको कुल 7 साल का हिसाब मांगना है।
    कुशीनगर की रैली में हनुमान जी बन पहुंचा एक सपा समर्थक
  2. कोई नहीं सोचता था कि ऐसे गठबंधन हो जाएगा... यहां के लोगों ने बगल में गठबंधन का असर देखा है। बाबा ने कभी नहीं सोचा था कि उन्हें कोई हरा सकता है...। पांच साल पहले क्या हुआ था कुछ याद नहीं है... पांच साल पहले मोदी जी ने जो वादा किया था वो भूल गए हैं.. पांच साल पहले जब आए थें तो कहा था कि चाय वाले हैं। 
  3. हमने पूछा भी नहीं कि चाय की दुकान है या नहीं है... चाय अब खराब हो गई.. चाय का स्वाद खराब हो गया। चाय बिना दूध के बन ही नहीं सकती है...। पहले चायवाला बन कर आए थे इस बार चौकीदार बन कर आए हैं... अब आप इनकी सच्चाई जान गए हैं... तो बताओ चौकिदार की चौकी छीनोगे कि नहीं...।
  4. जब चौकिदार हटेगा तो बाबा मुख्यमंत्री भी हटेंगे... बाबा ने जो वादे किए थे सब भूल गए... हमारे किसानों के बोरे से पांच-पांच किलो खाद चोरी की है। उसी से आपको 2 हजार रुपए दे रहे हैं...
    यह भी पढ़ें: बदजुबानी में रिकॉर्ड तोड़ रहे नेता, भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने मायावती को कहा 'यूपी की गुंडी'
  5. यह पहले प्रधानमंत्री है... यह जो कहते हैं कभी नहीं कर सकते हैं। कहा था काला धन वापस लाएंगे... नहीं लाया। हमारे पैसे को लेकर बड़े-बड़े उद्योगपति भारत से हमारे पैसे लेकर भाग गए। यह तो एक दो नाम है जो आप जानते हैं... लोकिन 36000 उद्योगपति हमारे आपके पैसे को लेकर यह भाग गए।
  6. आज बैंक कंगाल है.. आजादी के बाद यह पहला मौका है जब भारत के उपर दुगुना कर्ज है। भाजपा जब आई थी तब 48 लाख करोड़ का कर्ज था भारत पर... लेकिन अब भारत के उपर 75 लाख करोड़ का कर्ज है। हमारे समाजवादी लोग हमे मौका देंगे आर हम भी आपके घर से चिलम खोजवाएंगे। यह हमारा और आपका हिसाब किताब है... बताइए आपको लैपटॉप बाटा इन्होंने..।  
    कुशीनगर में रैली संबोधित करते सपा प्रमुख अखिलेश यादव
  7. प्रधानमंत्री जी से कंप्यूटर पढ़ने में गलती हो गई... उन्होंने कहा कि यह गठबंधन शराब है शराब... एक बार फिर जब हिंदी पढ़ ली तब फिर कभी शराब नहीं बोला। अगर CM का फुलफॉर्म पूछा जाए तो यह चिलम वाले मुख्यमंत्री होंगे।
  8. यह कहते हैं कि अगर संविधान नहीं होता तो हम भैंस चरा रहे होते। अगर यह हमारे बारे में ऐसे सोचते हैं कि यह आपके बारे में क्या सोच रखते होंगे। हम कहते हैं कि संविधान नहीं होता तो हम तो दूध दही बेच लेते... आप क्या करते मठ में घंटा बजा रहे होते।
    यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट से माफी मांगी, मोदी जी से नहीं.. लुढ़कती भाजपा की हार तय: राहुल गांधी
  9. हमने 100 नंबर गरीबों की मदद के लिए दी थी... ताकि गरीबों की मदद हो सके... हमने अधिकारियों को अमेरिका भेजा था कि देख कर आओ कि वहां कि पुलिस कैसे काम करती है। अधिकारियों ने देखा और उसे आकर लागू भी किया.. लेकिन मुख्यमंत्री जी ने उसे खराब कर दिया।
    गठबंधन की कुशीनगर रैली में पंडाल से बाहर खड़े लोग 
  10. हमारे शिक्षामित्रों ने भी पिछली बार नशे वाली चाय पी ली थी। हम इन्हें भरोसा दिलाना चाहते हैं कि हमारी सरकार आई तो पहले की तरह फिर से आपकी मदद करेंगे। आंगनबाडी, शिक्षामित्र और चौकिदारों का भी भाजपा ने नहीं सोचा... भाजपा वालों से जानवर भी परेशान हैं... इन्होंने हम पर तरह-तरह के आरोप लगा दिए... न जाने कितने सांड सड़क पर घूम रहे हैं...। 
  11. यह गरीबों का गठबंधन है.. यह टूटने वाला नहीं है... यही गठबंधन लोहिया बनना चाहते थे... उन्हीं के आदर्श को हम आगे बढ़ा रहे हैं।
  12. बीजेपी वाले कह रहे हैं कि हम नया भारत बनाएंगे... हम कहते हैं कि हम नया प्रधानमंत्री बनाएंगे तब नए भारत का निर्माण करेंगे। भाजपा वालों की भाषा बदल गई है। इनके भाषण सुनिये और सोचिए क्या क्या इन्होंने कह कर आपसे वोट ले लिया।
  13. आपने हमारी बात को नहीं सुना लेकिन आप अब बताइये कितना काला धन वापस आया। काला धन आया नहीं बल्कि 36 हजार उद्योगपति आपका पैसा लेकर देश से बाहर चले गए। युवा साथियों बाबा मुख्यमंत्री जी के चक्कर में मत पड़ जाना कभी शादी नहीं होगी वरना तुम्हारी।
    महराजगंज में सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव को स्‍मृति चिह्न भेंट करते सपा नेता  
  14. बाबा मुख्यमंत्री को क्या लेना देना आतकंवाद से ? ये बताएं कि 5 साल में क्या फैसला लिया आतंकवाद रोकने के लिए। अगर हम सीमा पर शहीद जवानों का हिसाब किताब मांगे तो वो हमें राष्ट्र विरोधी कहते हैं। ना जाने ये सरकार अपने आप क्या समझ रह है। एक बीसीएफ जवान को चुनाव लड़वा दिया तो सरकार की हालत बिगड़ गई। आज उस जवान के बारे में ना जाने क्या क्या आरोप लगा दिया। अगर सपा से कोई फौजी चुनाव लड़ गया तो वो राष्ट्रद्रोही हो जाएगा। अगर भाजपा के टिकट पर कोई आतंक का आरोपी चुनाव लड़ गया तो वो देश भक्त बन जाएगा।
  15. ये बड़े-बड़े सेठों के प्रधानमंत्री हैं। मुख्यमंत्री ने विधानसभा में बोला ठोंक दो तो पुलिस जनता को और जनता पुलिस को ठोकने लगी। आपको चौकीदार भी हटाना है और ठोकीदार भी हटाना है। समाजवादियों ने बढ़िया योजनाएं चलाई 100 नंबर, 108 नंबर एम्बुलेंस सेवा लेकिन उसे भी खराब कर दिया बाबा मुख्यमंत्री ने।
  16. कांग्रेस कहती है कि नीति आयोग खराब है। भाजपा कहती है कि योजना आयोग खराब है। अगर गठबंधन हारेगा तो दोबारा आपके हक और सम्मान की लड़ाई लड़ने वाला कोई और नहीं खड़ा होगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …