अयोध्या विवाद: नियमित सुनवाई पर लगा ब्रेक, अगली सुनवाई अब 8 फरवरी को

डीएन ब्यूरो

सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद को लेकर आज सुनवाई शुरू की गई। उम्मीद थी कि नियमित सुनवाई से राम जन्म भूमि का मामला जल्द सुलझ जायेगा लेकिन ऐसा नहीं हो सका और एक बार फिर यह मामला लटक गया।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद को लेकर आज सुनवाई शुरू की गई। सुप्रीम कोर्ट इस मामले की अगली सुनवाई 8 फरवरी को करेगा। इस मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाले 3 बैंच के जज कर रहे हैं। आज सुनवाई के दौरान सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि मामले की सुनवाई 2019 तक टाली जानी चाहिये और इसके लिये 5 या 7 जजों की बेंच बनाने की भी बात कही। इसके पीछे उन्होंने 2019 के आम चुनावों की दलील देते हुए कहा कि यह मामला अब राजनीतिक रंग ले चुका है।

सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या विवाद के मामले में रामलला का पक्ष रख रहे वकील हरीश साल्वे ने सुनवाई के लिये बड़ी बेंच बनाने का विरोध किया और कहा कि बेंच को कोर्ट के बाहर चल रही राजनीति पर ध्यान नहीं देना चाहिए।

सुन्नी वक्फ बोर्ड ने भी कहा कि मामले से संबंधित सभी दस्तावेज उपलब्ध नहीं है। वक्फ बोर्ड ने भी दस्तावेज पूरे करने की मांग की है। 

बता दें कि इस मामले की सुनवाई तीन जजों की पीठ कर रही है, जिसमें चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस अशोक भूषण और एस अब्दुल नजीर शामिल हैं। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






आपकी राय

क्या भारत चैंपियंस ट्राफी 2017 के फाइनल में पहुंचेगा?

हां
92.86%
नही
7.14%